Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बंगाली युवती से किसान आंदोलन में दुष्कर्म करने का आरोपी गिरफ्तार

webdunia
गुरुवार, 10 जून 2021 (10:19 IST)
चंडीगढ़। कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर टीकरी बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन के दौरान 30 अप्रैल को पश्चिम बंगाल की आंदोलनकारी 25 वर्षीय युवती की मौत हो गई थी। दिल्ली बॉर्डर पर किसानों के धरने पर बंगाल की एक युवती से गैंगरेप के मुख्य आरोपी को बुधवार को झज्जर की एसआईटी ने भिवानी से गिरफ्तार कर लिया। इसकी पहचान अनिल मलिक निवासी झोझूकलां के रूप में हुई है। इस पर 25 हजार रुपए का इनाम भी रखा हुआ था। ये कार्रवाई पुलिस ने गुपचुप तरीके से की गई और इसकी किसी को भनक तक नहीं लगी।

 
धरने पर कुछ दिन पहले पश्चिम बंगाल की एक महिला के साथ दुष्कर्म की वारदात हुई थी। इस मामले में झज्जर पुलिस की एक एसआईटी का गठन किया गया था। एसआईटी मामले की जांच कर रही थी। अनिल मलिक पर पुलिस ने 25 हजार रुपए का इनाम रखते हुए अतिवांछित घोषित किया हुआ था। झज्जर एसआईटी की टीम ने  
बुधवार को भिवानी पहुंचकर आरोपी को एक ठिकाने से धरदबोचा।

ALSO READ: किसानों की रिहाई के लिए हरियाणा के थाने में टिकैत ने की धरने की अगुवाई
 
कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर टीकरी बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन में 30 अप्रैल को पश्चिम बंगाल की आंदोलनकारी 25 वर्षीय युवती की मौत हो गई थी। दुष्कर्म और वारदात की साजिश में शामिल होने के आरोप में युवती के पिता की शिकायत पर महिला पुलिस थाना बहादुरगढ़ में एफआईआर दर्ज की गई थी।
 
 संयुक्त किसान मोर्चा को युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म होने का पता 2 मई को ही चल गया था। उसके बावजूद पुलिस कार्रवाई करने की जगह किसान नेता बैठक करते रहे। जब युवती के पिता ने आगे आकर मामले में मुकदमा दर्ज कराया तो अब संयुक्त किसान मोर्चा को किरकिरी होने पर सफाई देनी पड़ी। युवती से टीकरी बॉर्डर पर सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

बिहार में 73% बढ़ा मौत का आंकड़ा, अब तक 5424 नहीं बल्कि 9375 लोगों की गई जान