अमित शाह का राहुल पर हमला, एयर स्ट्राइक का सबूत मांग रहे हैं कांग्रेस अध्‍यक्ष

विशेष प्रतिनिधि

शनिवार, 2 मार्च 2019 (19:09 IST)
भोपाल। पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान के खिलाफ हुई एयर स्ट्राइक पर अब सियासी तकरार शुरू हो गई है। मध्यप्रदेश के उमरिया पहुंचे बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एयर स्ट्राइक को लेकर कांग्रेस और विपक्ष के नेताओं पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि सारे विपक्षी नेता एयरफोर्स ने जो एयर स्ट्राइक की है उस पर सवाल उठा रहे हैं।
 
अमित शाह ने सीधे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और ममता बनर्जी को निशाने पर लेते हुए कहा कि आप सवाल उठा रहे हो कि एयर स्ट्राइक हुई या नहीं। पाकिस्तान के मीडिया ने मान लिया, सेना ने मान लिया, संसद ने मान लिया, आतंकी संगठनों ने मान लिया। लेकिन ममता दी और राहुल गांधी नहीं मानते हैं। मैं कहता हूं शर्म करो, शर्म करो। ये देश के जवानों के पराक्रम पर शंका कर रहे हैं, इन्हें देश की जनता कभी माफ नहीं करेगी।
 
भाजपा अध्यक्ष ने सवाल उठाते हुए कहा कि जो कांग्रेस लंबे समय तक सत्ता में रही उसने कभी आतंकवादियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई क्यों नहीं की। कांग्रेस में इतनी हिम्मत नहीं थी कि वो पाकिस्तान और आंतकियों को मुंहतोड़ जवाब दे सके। अमित शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व ने देश के बता दिया कि अब पाकिस्तान की हर हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।

अमित शाह ने कहा कि जब देश संकट का सामना कर रहा हो तब विपक्षी दल पाकिस्तान को खुश करने वाली भाषा बोल रहे हैं। शाह ने इसे वोट बैंक की राजनीति बताते हुए कहा कि बीजेपी भी विपक्ष में रही लेकिन कभी पाकिस्तान को खुश करने वाली भाषा नहीं बोली।

विजय संकल्प बाइक महारैली का शुभारंभ : बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने विजय संकल्प बाइक महारौली का शुभारंभ करते हुए कहा कि देश के अलग-अलग हिस्सों में एक करोड़ से ज्यादा पार्टी के कार्यकर्ता बाइक महारैली में निकले हैं। जिनका लक्ष्य एक बार फिर देश में मोदी सरकार बनाना है।
 
शाह ने कहा कि ये भी एक विश्व रिकॉर्ड है कि मोदी जी की जिताने के लिए एक करोड़ से अधिक मोटरसाइकिलें एक साथ निकली हैं। भाजपा नेता ने कहा कि बीजेपी लोकसंपर्क के आधार पर चुनाव लड़ती है।

जब सरकार में रहे तब जनकल्याण और जब चुनाव में जाएं, तो जनसंपर्क ही बीजेपी का तरीका है। चाहे 22 करोड़ लाभार्थियों का संपर्क हो, कमल दीपावली हो, चाहे बाइक रैली हो, ये सभी अभियान लोकसंपर्क के लिए ही हैं और इनके माध्यम से हम 2019 के चुनाव के पहले हर मतदाता तक पहुंचेंगे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख लोकसभा चुनाव से पहले संविदा कर्मचारियों ने कमलनाथ सरकार को खिलाफ खोला मोर्चा