Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

छोटे किसानों को होगा कर्ज माफी का फायदा

webdunia

अवनीश कुमार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार की पहली कैबिनेट बैठक समाप्त हो चुकी है और इस बैठक में सबसे अहम फैसला छोटे किसानों को ले कर लिया गया है। इस बैठक में किसानों के एक लाख तक के कर्ज माफ किए गए हैं। 
 
प्राप्त जानकारी के अनुशार लघु व सीमांत किसानों के फसली ऋण को माफ करने की योजना तैयार करने के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आठ सदस्यीय समिति गठित करने का भी प्रस्ताव है। यह समिति कर्जमाफी योजना को अमली जामा पहनाने के लिए संसाधनों की व्यवस्था करने के उपाय सुझाएगी और योजना से जुड़ी सभी प्रक्रियाएं तय करेगी। 
 
उत्तर प्रदेश में 2.33 करोड़ किसान हैं। इनमें 1.85 करोड़ सीमांत और लगभग तीस लाख लघु किसान हैं। इस हिसाब से सूबे में लघु व सीमांत किसानों की संख्या 2.15 करोड़ है। सीमांत किसान वे होते हैं जिनकी अधिकतम जोत एक हेक्टेयर तक होती है। वहीं लघु श्रेणी के किसान वे होते हैं जिनकी जोत एक से दो हेक्टेयर तक होती है।
 
गौरतलब है कि भाजपा ने अपने लोक कल्याण संकल्प पत्र में सूबे के लघु व सीमांत किसानों के फसली ऋण माफ करने की घोषणा की थी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

2 साल में 'जियो' को होगा 311 अरब का नुकसान