छत्तीसगढ़ में जुताई के दौरान मिले 11वीं सदी के गणेश

सोमवार, 24 दिसंबर 2018 (17:15 IST)
कवर्धा। छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में खजुराहो के नाम से प्रसिद्ध भोरमदेव में छेरकी महल के पास खेत की जुताई के दौरान सोमवार को किसान को भगवान गणेश की प्राचीन मूर्ति मिली।
 
बताया गया है कि खेत में प्राचीन मूर्ति मिलने की सूचना के बाद पुलिस और राजस्व विभाग की टीम ने गांव पहुंचकर जांच की। पुलिस ने मूर्ति का पंचनामा तैयार कर उसे अपने कब्जे में ले लिया है, वहीं पुरातत्व विभाग रायपुर को इसकी सूचना दे गई है।
 
गणेश की मूर्ति के 11वीं शताब्दी में निर्माण की संभावना जताई गई है, क्योंकि इसके पहले भी खुदाई में मिली मूर्तियों के 11वीं शताब्दी में निर्माण होने की पुष्टि पुरातत्व विभाग कर चुका है। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख रामदेव का तीखा हमला, देश के गद्दार हैं नसीरुद्दीन शाह जैसे लोग