Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia

ह्यूमन ट्रैफिकिंग का सनसनीखेज खुलासा, बालाघाट के 29 बच्चे बरामद

webdunia

विशेष प्रतिनिधि

भोपाल। चाइल्ड ट्रैफिकिंग के सनसनीखेज मामले का खुलासा हुआ है। चाइल्ड लाइन और पुलिस की सुंयक्त कार्रवाई में बालाघाट जिले के रहने वाले 29 बच्चों को मुक्त कराया गया है। पुलिस के मुताबिक, बच्चों को बालाघाट का रहने वाला एक युवक रोजगार का लालच देकर तमिलनाडु के चेन्नई ले गया था।

युवक ने इन बच्चों को जिस कंपनी में नौकरी दिलवाई वह कुछ दिनों बाद बंद हो गई, जिसके बाद युवक तमाम बच्चों को अंडमान एक्सप्रेस से वापस ला रहा था। इसी दौरान बच्चों को वापस लाते समय रेलवे पुलिस की नजर इन बच्चों पर पड़ी, जब इन बच्चों से पूछताछ की तो पूरे मामले का खुलासा हुआ।

इस दौरान इनको ले जा रहा युवक मौका पाकर फरार हो गया। इसके बाद सभी बच्चों को चाइल्ड लाइन और जीआरपी की मदद से भोपाल लाया गया और अब सभी बच्चों को उनके गृह जिले बालाघाट भेजने की तैयारी की जा रही है। रिहा कराए गए 29 बच्चों में से 13 लड़कियां और 16 लड़के थे।

वहीं मीडिया से बातचीत में चाइल्ड लाइन अधिकारी ने कहा कि लड़कियों का मेडिकल टेस्ट करवाया गया, जिसमें कोई गलत काम नहीं पाया गया। बच्चों से 14 घंटे काम करवाया जाता था और सिर्फ 500 रुपए दिया जाते थे। उनका यह भी कहना है कि कुछ परिवारों ने बच्चों की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाई है और कुछ को खुद परिवार ने काम करने के लिए भेजा था।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

रतन टाटा व अन्य के खिलाफ मानहानि की कार्रवाई खारिज, नुस्ली वाडिया ने दायर किया था मामला