Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो की बड़ी कार्रवाई, 100 किलो से ज्‍यादा अफीम बरामद, 3 आरोपी गिरफ्तार

हमें फॉलो करें webdunia

मुस्तफा हुसैन

बुधवार, 16 नवंबर 2022 (21:35 IST)
नीमच। केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए 102 किलो 910 ग्राम अफीम के 95 पैकेट के साथ 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इन आरोपितों से अफीम लाने व ले जाने के संबंध में पूछताछ की जा रही है। इस दौरान नशे के तस्करों ने ट्रक को सरकारी वाहन पर चढ़ाकर भागने की कोशिश की। इसके चलते शासकीय वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया।

इस संबंध में जानकारी देते हुए केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो मध्य प्रदेश इकाई के उपायुक्त डॉ. संजय कुमार ने बताया की मुखबिर की खुफिया सूचना पर केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो नीमच के अधिकारियों ने राजस्थान के राजाधोक टोल प्लाजा जयपुर-आगरा राजमार्ग पर एक ट्रेलर को रोका। तलाशी में उक्त ट्रेलर से 102.910 किलोग्राम वजनी अफीम के 95 पैकेट जब्त किए गए। यह सीबीएन द्वारा की गई अफीम की सबसे बड़ी बरामदगी में से एक है।

उपायुक्त डॉ. संजय कुमार ने बताया की उनके नेतृत्व में गठित टीम 14 नवंबर को राजस्थान रवाना हुई। इसके बाद मौके पर पहुंचकर टीम में शामिल अधिकारियों ने संदिग्ध मार्ग पर निगरानी रखी और राजाधोक टोल प्लाजा जयपुर-आगरा राजमार्ग जयपुर राजस्थान पर सफलतापूर्वक ट्रक की पहचान की और उसे रोका।

इस दौरान नशे के तस्करों ने ट्रक को सरकारी वाहन पर चढ़ाकर भागने की कोशिश की। इसके चलते शासकीय वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया। टीम ने हाईवे पर जांच करना उचित न समझते हुए ट्रॉले को सीबीएन कार्यालय नीमच लाने का निर्णय लिया।

सीबीएन कार्यालय पहुंचने के बाद जब अशोक लेलैंड ट्रक (ट्राले) की पूरी तरह से तलाशी ली तो कुल 95 पैकेट में 102.910 किलोग्राम अफीम बरामद हुई। आरोपियों ने राजस्थान पासिंग इस ट्राले में योजना बनाकर कुल 95 पैकेट छुपाकर ले जाने की बात कबूली।

उपायुक्त डॉ. संजय कुमार ने बताया कि इस अवैध अफीम के साथ वाहन को एनडीपीएस एक्ट की धारा 8/18 के तहत जब्त कर तस्करों को गिरफ्तार किया गया है। तस्करों से इतनी बड़ी मात्रा में अफीम कहां से और किस से लाई जा रही थी इस संबंध में पूछताछ की जा रही है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

जम्मू कश्मीर में पत्रकारों को मिल रही हैं आतंकी धमकियां, जानिए पत्रकारों पर हुए अब तक कितने हमले