Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अमरनाथ यात्रा पर कोरोना का साया, रजिस्ट्रेशन हुए बंद, हालात बेकाबू हुए तो हो सकती है रद्द

webdunia
webdunia

सुरेश एस डुग्गर

गुरुवार, 22 अप्रैल 2021 (17:09 IST)
जम्मू। अमरनाथ यात्रा पर एक बार फिर कोरोना का साया मंडराने लगा है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच पंजीकरण को स्थगित कर दिया गया है। यही नहीं, देखभाल संभालने वाले अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने संकेत दिए हैं कि अगर हालात यूं ही बने रहे या फिर और ज्यादा खराब हुए तो यात्रा को रद्द भी किया जा सकता है। पिछले साल भी कोरोना के कारण यात्रा नहीं हो पाई थी।

अमरनाथ श्राइन बोर्ड के अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है कि अमरनाथ यात्रा की पंजीकरण प्रक्रिया को अस्थायी रूप से बंद कर दिया है। बोर्ड द्वारा लगातार स्थिति पर नजर रखी जा रही है और यह आश्वासन दिया जा रहा है कि हालात में सुधार होते ही पंजीकरण प्रक्रिया को एक बार फिर से बहाल कर दिया जाएगा।
 
इस बार अमरनाथ यात्रा का पंजीकरण अभी तक 3 बैंकों की कुल 446 शाखाओं में किया जा रहा था जिसमें पंजाब नेशनल बैंक की 316, जम्मू-कश्मीर बैंक की 90 और येस बैंक की 40 शाखाएं शामिल थीं। श्रद्धालुओं को उम्मीद है कि हालात सामान्य होने के उपरांत एक बार फिर से पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। अमरनाथ यात्रा आगामी 28 जून से शुरू होनी है।

 
इसी के मद्देनजर यात्रा के लिए गत पहली अप्रैल से जम्मू-कश्मीर बैंक, पंजाब नेशनल बैंक और येस बैंक की 446 शाखाओं में पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो गई थी जबकि ऑनलाइन प्रक्रिया गत 15 अप्रैल से शुरू हुई थी। इस बार यात्रा 28 जून से शुरू होकर 22 अगस्त को रक्षाबंधन वाले दिन संपन्न होनी है। अमरनाथ यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं की आयु कम से कम 13 वर्ष और अधिकतम 75 वर्ष निर्धारित की गई है।
 
श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड की ओर से इस बार 6 लाख श्रद्धालुओं के आने का बंदोबस्त किया गया है। चूंकि इस समय प्रदेश में कोरोना संकमण के मामलों में लगातार वृद्धि देखी जा रही है। पिछले 2 दिनों में 4 हजार से अधिक कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं। इसी स्थिति को मद्देनजर रखते हुए श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड की ओर से फिलहाल पंजीकरण अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है। बोर्ड की ओर से लगातार स्थिति पर नजर रखी जा रही है। कुछ दिन पहले ही सुरक्षाबलों का दल यात्रा मार्ग पर भेज दिया गया है ताकि यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए जा सकें।

webdunia
 
जानकारी के लिए पिछले साल भी कोरोना के कारण यात्रा को रद्द कर देना पड़ा था। हालांकि अमरनाथ श्राइन बोर्ड का कहना है कि अमरनाथ की यात्रा के लिए तैयारियों को अमली जामा पहनाया जा रहा है। इस बार ऐसी भी व्यवस्था की गई है कि अगर कोई श्रद्धालु अमरनाथ यात्रा के लिए ऑनलाइन हेलीकॉप्टर की बुकिंग करवाता है तो उसे यात्रा पंजीकरण करवाने की जरूरत नहीं होगी। इसके लिए श्रद्धालु को अपना स्वास्थ्य प्रमाण पत्र और हेलीकॉप्टर की टिकट ही दिखानी होगी। ऐसी स्थिति में श्रद्धालु को तत्काल यात्रा की अनुमति मिल जाएगी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

'ऑक्सीजन संकट' को लेकर PM मोदी की हाईलेवल मीटिंग, बोले- जमाखोरी पर सख्त कार्रवाई करें राज्य सरकारें, दिए ये बड़े निर्देश