Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में वज्रपात, 7 लोगों की मौत

webdunia
रविवार, 11 जुलाई 2021 (21:20 IST)
कौशाम्बी/ फिरोजाबाद (उत्तर प्रदेश)। कौशाम्बी और फिरोजाबाद जिलों में रविवार को खराब मौसम के बीच गिरी बिजली की चपेट में आने से 7 लोगों की मौत हो गई। सभी जगह नुकसान के आकलन के निर्देश  उपजिलाधिकारियों को दिए गए हैं। आकलन होने के बाद शासन के निर्देश पर मुआवजा देने की कार्रवाई की जाएगी।

कौशाम्बी से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक, कौशाम्बी थाना क्षेत्र के मुड़िया डोली गांव में खेत में धान की रोपाई के दौरान गिरी बिजली की चपेट में आने से रुकमा (12) की मौके पर ही मौत हो गई। सराय अकिल थाना क्षेत्र के अकबराबाद गुहौली गांव निवासी मूरत ध्वज (50) साइकल से दवा लेने पुरखास बाजार जा रहा था। रास्ते में बारिश होने के कारण वह एक पेड़ के नीचे रुक गया।

उसी समय पेड़ पर बिजली गिरी जिसकी चपेट में आने से मूरत ध्वज की मौके पर ही मृत्यु हो गई। इसी थाना क्षेत्र के पुरखास गांव निवासी रामचंद्र (32) की भी खेत में घास काटते वक्त गिरी बिजली की चपेट में आने से मौत हो गई।

जिले के पश्चिम शरीरा थाना क्षेत्र के टिकरी नागी गांव में धान की रोपाई करते समय मयंक सिंह (15) पर बिजली गिरी जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस अधीक्षक राधेश्याम विश्वकर्मा ने बताया कि सभी मृतकों के शव पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं।
ALSO READ: UP Population Policy : CM योगी ने जारी की नई जनसंख्या नीति, SP सांसद बोले-बच्चा पैदा होने से कौन रोक सकता है?
उधर, फिरोजाबाद से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक जिले में दोपहर में हुई बारिश के दौरान गिरी बिजली की चपेट में आने से खेत में काम कर रहे तीन किसानों की मौत हो गई। जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह ने बताया कि शिकोहाबाद के नगला उमर निवासी 50 वर्षीय हेमराज और रामसेवक (40) बारिश से बचने के लिए खेत में नीम के पेड़ के नीचे बैठे थे। तभी बिजली गिरने से उनकी मौत हो गई।
ALSO READ: नड्डा की भाजपा के राष्ट्रीय सचिवों के साथ बैठक, पदाधिकारियों ने की प्रधानमंत्री से मुलाकात
उन्होंने बताया कि एक अन्य घटना में शिकोहाबाद क्षेत्र के ही नगला चाट निवासी अमर सिंह (60) की भी आकाशीय बिजली के चपेट में आकर मौत हो गई। शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। सिंह ने बताया कि सभी जगह नुकसान के आकलन के निर्देश उपजिलाधिकारियों को दिए गए हैं। आकलन होने के बाद शासन के निर्देश पर मुआवजा देने की कार्रवाई की जाएगी।(भाषा) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

UP Population Policy : CM योगी ने जारी की नई जनसंख्या नीति, SP सांसद बोले-बच्चा पैदा होने से कौन रोक सकता है?