Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

यूक्रेन के कब्‍जे में रूस की खूंखार महिला स्‍नाइपनर, 40 से ज्‍यादा सैनिकों की कर चुकी हैं हत्‍या, रूस ने छोड़ दिया था लहूलुहान हालत में

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 29 मार्च 2022 (12:17 IST)
रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जारी है, ऐसे में तमाम तरह की कहानियां सामने आ रही हैं। इन दिनों रूस की सबसे खतरनाक और खूंखार मानी जाने वाली महिला स्‍नाइपर की खूब चर्चा हो रही है।

ये स्‍नाइपर दरअसल, यूक्रेन की सेना के हत्‍थे चढ़ गई है। यूक्रेनी सेना ने उसे गिरफ्तार किया है। रूस की इस महिला स्नाइपर के ऊपर 40 यूक्रेनी नागरिकों की हत्या का आरोप है।

यूक्रेन के कीव में रूस की इस दुनिया की सबसे खतरनाक महिला स्नाइपर को डोनबास इलाके से गिरफ्तार किया है। इस रूसी स्नाइपर ने यूक्रेन के 40 लोगों की गोली मारकर हत्या की थी। यूक्रेन ने दावा किया है कि युद्ध के दौरान घायल होने के बाद रूसी सेना ने इस महिला स्नाइपर को घायल अवस्‍था में अकेले छोड़ दिया था। इस स्नाइपर का नाम इरीना स्टारिकोवा बताया जा रहा है, जिसका कॉल साइन बगिरा है।

इरीना स्टारिकोवा 2014 से रूस समर्थित अलगाववादी क्षेत्र डोनेट्स्क के लड़ाकों के साथ यूक्रेनी सरकार के खिलाफ छापामार युद्ध में शामिल थी।

गिरफ्तारी के बाद उसने यूक्रेनी सेना को बताया कि रूसी सेना ने उसे लड़ाई में घायल होने के बाद मरने के लिए छोड़ दिया था। इरीना स्टारिकोवा की गिरफ्तारी की सूचना यूक्रेनियन आर्म्ड फोर्सेज ने फेसबुक पर दी है।

इसमें बताया गया है कि इरीना ने अब तक 40 से अधिक यूक्रेनी नागरिकों को अपनी स्नाइपर राइफल से निशाना बनाया है। इरीना के गिरफ्तारी की पुष्टि किंग्स कॉलेज लंदन में युद्ध अध्ययन विभाग के एक शोधकर्ता जियोर्गी रेविशविली ने भी की थी।

उन्होंने ट्वीट किया कि यूक्रेनी बलों ने ORDLO की ओर से लड़ रहे कुख्यात स्नाइपर को पकड़ लिया। उन्होंने यह भी बताया कि इस महिला स्नाइपर का कॉल साइन बगिरा है जो यूक्रेन के अलगाववादियों की तरफ से जंग लड़ रही थी।

रेविशविली का दावा है कि इरीना स्टारिकोवा आम नागरिकों सहित 40 यूक्रेनियन की हत्या के लिए जिम्मेदार है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्टारिकोवा मूल रूप से सर्बिया की रहने वाली हैं।
webdunia

यूक्रेन की ओबोज़्रेवाटेल समाचार वेबसाइट ने व्लाद इवानोव नाम के एक सैनिक के हवाले से कहा कि जब स्टारिकोवा को पकड़ा गया तो वह बुरी तरह से घायल थी। उसे तत्काल मेडिकल सहायता उपलब्ध करवाई गई। यूक्रेनी सैनिक ने बताया कि इरीना ने उससे कहा था कि वे यह जानकर चले गए कि मैं घायल हूं और कुछ ही देर में मर जाऊंगी। इरीना स्टारिकोवा 11वें स्पेशलाइज्ड स्पेशल ऑपरेशंस डिवीजन का स्नाइपर थी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

श्रमिक संगठनों की हड़ताल दूसरे दिन भी जारी, बैंकों एवं परिवहन पर असर