Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

शरद पूर्णिमा की रात मां लक्ष्मी को कैसे मनाएं, याद कर लें 1 शुभ मंत्र

webdunia
शरद पूर्णिमा की रात में की गई पूजन और आराधना से साल भर के लिए लक्ष्मी और कुबेर की कृपा प्राप्ति होती है। इसके अलावा मनोबल में वृद्धि, स्मरण शक्ति व खूबसूरती में वृद्धि होती है।

मां लक्ष्मी इस दिन विशेष प्रसन्न होती हैं क्योंकि मान्यतानुसार इस दिन समुद्र मंथन से वे अवतरित हुई थीं...इस दिन उनसे मनचाहा वरदान पाना आसान होता है। अत: शरद पूनम पर मां लक्ष्मी की आराधना अवश्य करें।  
 
 ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नमः
 
शरद पूर्णिमा की रात में सिर्फ इस मंत्र को पढ़ लीजिए.. मिलेगा इतना कुछ जो आपने सोचा भी नहीं होगा
 
शरद-पूर्णिमा की रात इस मंत्र से मिलता है सौभाग्य का आशीष 
 
भागवत महापुराण में कहा गया है कि आप चाहते हैं आपका भाग्य, सौभाग्य बन जाए तो शरद पूनम पर चमकीले, श्वेत और सुंदर चंद्र देव को इस मंत्र से पूजें।

चांदी के बर्तन में दूध और मिश्री का भोग लगाकर इस मंत्र का रात भर जप करें। 
 
शरद पूर्णिमा की रात इस मंत्र से पाएं सौभाग्य का आशीर्वाद 
 
"पुत्र पौत्रं धनं धान्यं हस्त्यश्वादिगवेरथम् प्रजानां भवसि माता आयुष्मन्तं करोतु मे।"
webdunia

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

शरद पूर्णिमा पर धन के राजा कुबेर होते हैं इन मंत्रों से प्रसन्न