Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सेंसेक्स 61,873 अंक के सर्वकालिक उच्च स्तर पर, निफ्टी भी 18,400 अंक के पार

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 15 नवंबर 2022 (18:31 IST)
मुंबई। वैश्विक बाजारों में मजबूती के रुख के बीच बैंकिंग और ऊर्जा शेयरों में अंतिम घंटे में लिवाली से घरेलू शेयर बाजार बीएसई का सेंसेक्स 248 अंक की बढ़त के साथ अपने सर्वकालिक उच्च स्तर 61,873 अंक पर पहुंच गया। इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 74.25 अंक यानी 0.41 प्रतिशत की मजबूती के साथ 18,403.40 अंक पर बंद हुआ।
 
कारोबारियों के अनुसार रुपए में मजबूती, घरेलू मुद्रास्फीति के आंकड़ों में सुधार और विदेशी निवेशकों की लगातार लिवाली से भी निवेशकों की धारणा को समर्थन मिला। उतार-चढावभरे कारोबार में सेंसेक्स 248.84 अंक यानी 0.40 प्रतिशत चढ़कर 61,872.99 अंक पर बंद हुआ। इसी के साथ सेंसेक्स 11 नवंबर के अपने पिछले रिकॉर्ड स्तर 61,795.04 अंक को पार कर गया। कारोबार के दौरान सेंसेक्स एक समय 61,955.96 अंक तक चढ़ गया था।
 
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 74.25 अंक यानी 0.41 प्रतिशत की मजबूती के साथ 18,403.40 अंक पर बंद हुआ। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि वैश्विक बाजारों में सकरात्मक रुख ने घरेलू शेयर में शुरुआती कारोबार के दौरान आई गिरावट को बढ़त में बदल दिया। बैंकिंग शेयरों में लिवाली से भी बाजार को समर्थन मिला।
 
उन्होंने कहा कि खाद्य और जिंस उत्पादों की कीमतों में गिरावट ने घरेलू मुद्रास्फीति को 7 प्रतिशत से नीचे रखने में मदद की है। हालांकि खुदरा मुद्रास्फीति आरबीआई के 6 प्रतिशत के संतोषजनक स्तर से अब भी ऊपर बनी हुई है। इसके अगले वित्त वर्ष की पहली तिमाही से ही नरम होने की संभावना है।
 
सेंसेक्स की कंपनियों में पॉवर ग्रिड के शेयर में सबसे अधिक 2.20 प्रतिशत की वृद्धि हुई। आईसीआईसीआई बैंक, भारती एयरटेल, अल्ट्राटेक सीमेंट, एसबीआई, डॉ. रेड्डीज, टाइटन, एमएंडएम और एचडीएफसी लिमिटेड और एचडीएफसी बैंक के शेयर प्रमुख रूप से लाभ में रहे। दूसरी तरफ आईटीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज फिनसर्व, सन फार्मा और नेस्ले इंडिया के शेयर गिरावट के साथ बंद हुए।
 
व्यापक बाजार में बीएसई का मिडकैप सूचकांक 0.08 प्रतिशत तथा स्मॉलकैप 0.01 प्रतिशत की मामूली बढ़त लेकर बंद हुआ। कोटक सिक्योरिटीज लिमिटेड के खुदरा शोध प्रमुख श्रीकांत चौहान ने कहा कि घरेलू मुद्रास्फीति में नरमी के संकेत के साथ व्यापारियों को उम्मीद है कि मौद्रिक नीति समिति की अगली बैठक में आरबीआई ब्याज दरों में वृद्धि पर नरम रुख अपना सकता है।
 
एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की, चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख रहा। अमेरिकी बाजार वॉल स्ट्रीट सोमवार को गिरावट में बंद हुआ था।
 
इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.62 प्रतिशत घटकर 91.63 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों की लिवाली का सिलसिला जारी है। उन्होंने सोमवार को 1,089.41 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर खरीदे।(भाषा)
 
Edited by: Ravindra Gupta

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

दिल्ली HC ने उद्धव ठाकरे को दिया झटका, ECI के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका खारिज