Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

श्राद्ध पक्ष में क्यों जरूरी है धूप देना, जानिए महत्व और फायदे

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 10 सितम्बर 2022 (15:45 IST)
Dhoop ke fayde in hindi : 10 सितंबर 2022 शनिवार से पितृपक्ष प्रारंभ हो गए है जो 25 सितंबर सर्वपितृ अमावस्या तक चलेंगे। श्राद्ध पक्ष में पिंडदान, तर्पण, पंचबलि कर्म, ब्राह्मण भोज के साथ ही घर में कंडे पर गुड़-घी की धूप दी जाती है। धूप और भी कई तरह से दी जाती है। आओ जानते हैं कि धूप देने का क्या है महत्व और फायदे। 
 
धूप देने का महत्व : पितरों, देवताओं और क्षेत्रज्ञ को तृप्त करने तथा वास्तु अर्थात हमारे घर के वातारवण को शुद्ध करने के लिए धूप देते हैं। श्राद्धपक्ष में 16 दिन ही दी जाने वाली धूप से पितृ तृप्त होकर मुक्त हो जाते हैं तथा पितृदोष का समाधान होकर पितृयज्ञ भी पूर्ण होता है। 
 
धूप देने लेने के फायदे :
- पितृदोष से मुक्ति मिलती है।
- गृहकलह से मुक्ति मिलती है।
- रोग और शोक मिट जाते हैं।
- मानसिक शांति बनी रहती है। 
- मानसिक रोग नहीं होते हैं।
- डिप्रेशन से मिलती है मुक्ति
- मानसिक और शारीरिक शक्ति बढ़ती है।
- घर में किसी की अकाल मौत नहीं होती है।
- पारलौकिक शक्तियों की मदद मिलती है।
- धूप देने से मन, शरीर और घर में शांति की स्थापना होती है।
- षोडशांग या दशांग धूप देने से आकस्मिक दुर्घटना नहीं होती है।
- ग्रह-नक्षत्रों से होने वाले छिटपुट बुरे असर भी धूप देने से दूर हो जाते हैं।
- गुड़-घी की धूप विशेष दिनों में देने से देवदोष व पितृदोष का शमन होता है।
- घर के भीतर व्याप्त सभी तरह की नकारात्मक ऊर्जा बाहर निकलकर घर का वास्तुदोष मिट जाता है।
- धूप देने से देवता और पितृ प्रसंन्न होते हैं जिनकी सहायता से जीवन के हर तरह के कष्‍ट मिट जाते हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पितृ आराधना के साथ श्राद्धपक्ष प्रारंभ, जानिए श्राद्ध के प्रकार और जरूरी बात