एशियाई चैंपियनशिप में नहीं खेलेंगी मेरीकॉम, 20 सदस्यीय भारतीय दल लेगा हिस्सा

शनिवार, 16 मार्च 2019 (22:56 IST)
नई दिल्ली। महान महिला मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम ने बड़ी प्रतियोगिताओं की तैयारी के मद्देनजर एशियाई महिला चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं लेने का फैसला किया है और उनकी अनुपस्थिति में विश्व चैंपियनशिप की रजत पदकधारी सोनिया चहल बैंकॉक में 16 से 27 अप्रैल तक होने वाले इस टूर्नामेंट में 20 सदस्यीय भारतीय दल की अगुवाई करेंगी।
 
6 बार की विश्व चैंपियन मेरीकॉम इस साल के अंत में होने वाली विश्व चैंपियनशिप पर ध्यान लगाना चाहती हैं। उन्होंने वियतनाम में 2017 सत्र में भारत को एकमात्र स्वर्ण पदक दिलाया था। मेरीकॉम की अनुपस्थिति में सोनिया और विश्व चैंपियनशिप की पूर्व स्वर्ण पदकधारी सरिता देवी और पूर्व विश्व जूनियर चैंपियन निखत जरीन भारतीय दल की चुनौती की जिम्मेदारी संभालेंगी।
 
इंदिरा गांधी स्टेडियम में 3 दिवसीय ट्रॉयल के बाद काफी युवा प्रतिभाओं ने टीम में जगह बनाई जिसमें 46 मुक्केबाजों ने शिरकत की। स्ट्रैंद्जा मेमोरियल मुक्केबाजी टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीतकर सत्र की शुरुआत करने वाली निखत ने पिंकी रानी को 4-1 से मात देकर 51 किग्रा ट्रॉयल के फाइनल में पहला स्थान हासिल किया। पिंकी रिजर्व मुक्केबाज होंगी। हरियाणा की 2 बार की युवा विश्व चैंपियनशिप की स्वर्ण पदकधारी नीतू 48 किग्रा में चुनौती पेश करेंगी जिन्होंने ट्रॉयल में मंजू रानी को 5-0 से मात दी।
 
सोनिया 57 किग्रा में देश का प्रतिनिधित्व करेंगी जिन्होंने ट्रॉयल के फाइनल में साक्षी को 5-0 से मात दी। अनुभवी सरिता ने 60 किग्रा में परवीन को 4-1 से हराकर टीम में जगह सुनिश्चित की। भारत की 64 किग्रा में उम्मीद पंजाब की सिमरनजीत कौर और 69 किग्रा में निगाहें असम की लवलीना बोरगोहेन पर टिकी होंगी। 
 
पिछले चरण में भारतीय महिला टीम ने कुल 7 पदक जीते थे जिसमें 1 स्वर्ण, 1 रजत और 5 कांस्य शामिल थे। पहली बार पुरुषों और महिला वर्ग की प्रतियोगिता एकसाथ कराई जाएंगी।
 
टीम इस प्रकार है : 48 किग्रा : नीतू मंजू रानी। 51 किग्रा : निखत जरीन, पिंकी रानी। 54 किग्रा : मनीषा, मीनाकुमारी। 57 किग्रा : सोनिया चहल, साक्षी।
 
60 किग्रा : सरिता देवी, परवीन। 64 किग्रा : सिमरनजीत कौर, पी. बासुमतारी। 69 किग्रा : लवलीना बोरगोहेन, अंजलि तुशीर। 75 किग्रा : नुपुर, पूजा।
 
81 किग्रा : पूजा रानी, नंदिनी। 81 किग्रा से अधिक : सीमा पूनिया, कविता चहल। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख बिनाका इंडियन वेल्स के फाइनल में कर्बर से भिड़ेंगी