Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

French Open 2020 : दर्द से परेशान नोवाक जोकोविच 4 सेटों में मैच जीतकर 10वीं बार सेमीफाइनल में

webdunia
गुरुवार, 8 अक्टूबर 2020 (18:05 IST)
Photo UNI: Novak Djokovic
पेरिस। दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी और शीर्ष वरीयता प्राप्त सर्बिया के नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic)10वीं बार क्ले कोर्ट ग्रैंड स्लेम फ्रेंच ओपन (French Open) टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं। दर्द से परेशान होने के बाद भी जोकोविच ने क्वार्टर फाइनल मुकाबले के सेटों में पाब्लो कारेनो बुस्ता को 4-6, 6-2, 6-3, 6-4 से शिकस्त दी।
 
जोकोविच की इस जीत के बाद टूर्नामेंट में पुरुषों के सिंगल्स सेमीफाइनल तय हो गए। जोकोविच का सामना पांचवीं वरीयता प्राप्त यूनान के स्तेफानोस सितसिपास से होगा जबकि दूसरे सेमीफाइनल में क्ले कोर्ट के बेताज बादशाह और 12 बार के विजेता स्पेन के राफेल नडाल का सामना 12वीं वरीयता प्राप्त अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्ट्जमैन से होगा। 
 
राफेल नडाल ने क्वार्टर फाइनल में इटली के युवा खिलाड़ी जानिक सिनर को 7-6 (4), 6-4, 6-1 से और 12वीं वरीयता प्राप्त श्वार्ट्जमैन ने गत उपविजेता ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम को 7-6 (1), 5-7, 6-7 (6), 7-6 (5), 6-2 से हराया।
 
विश्व के नंबर एक खिलाड़ी जोकोविच की क्वार्टर फाइनल मुकाबले में शुरुआत थोड़ी धीमी रही और पहले सेट में उन्हें पाब्लो के हाथों 4-6 से हार का सामना करना पड़ा। इस बीच वह कई बार दर्द से परेशान नजर आए। लेकिन इसके बाद उन्होंने अपनी लय में लौटते हुए अगले तीन सेट में पाब्लो को कोई मौका नहीं दिया और अगले तीनों सेट आसानी से जीतकर अंतिम चार में जगह बना ली।
 
3 घंटे 10 मिनट तक चले मैच में जीत हासिल करने के बाद जोकोविच ने कहा, मेरी गर्दन और कंधे में थोड़ा दर्द था लेकिन जैसे-जैसे मैच आगे बढ़ता गया, मुझे अच्छा महसूस हो रहा था, ज्यादा दर्द नहीं हो रहा था। जाहिर है कि मैं अभी भी टूर्नामेंट में खेल रहा हूं, इसलिए मैं बहुत अधिक नहीं कहना चाहता। मुझे फिलहाल ठीक लग रहा है।
 
वर्ष 2016 में यहां चैंपियन रह चुके जोकोविच की फ्रेंच ओपन में यह 73वीं जीत है और इसी के साथ ही वह करियर के 38वें ग्रैंड स्लेम सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं। जोकोविच का इस सत्र में 36-1 का रिकॉर्ड हो गया है।
 
सर्बियाई खिलाड़ी ने क्वार्टर फाइनल तक के अपने सफर में मात्र 25 गेम गंवाए थे लेकिन पाब्लो ने उन्हें पहले सेट में चौंका दिया। फ्रेंच ओपन से पहले इटालियन ओपन का खिताब जीतने वाले जोकोविच ने पहले सेट के बाद एटीपी के फिजियो से कुछ इलाज कराया और इसके बाद वह जैसे ताजा दम होकर कोर्ट पर उतरे और अपने 10वें फ्रेंच ओपन सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद ही दम लिया।
 
33 वर्षीय जोकोविच जब कोर्ट पर उतरे थे तब उनकी गर्दन पर टेप लगी हुई थी और अंकों के दौरान वह अपनी बाजुओं को एडजस्ट करने की कोशिश कर रहे थे। वह पहले सेट में अपनी सर्विस पर 40 फीसदी अंक ही जुटा पाए थे और पाब्लो ने पहले सेट में इसका पूरा फायदा उठाया।
 
17 बार के ग्रैंड स्लेम चैंपियन दूसरे सेट से अपनी लय में लौट आए और उनकी सर्विस तथा ग्राउंड स्ट्रोक्स सभी सही पड़ने लगे। पाब्लो के लिए जोकोविच को अब रोकना मुश्किल हो गया। जोकोविच ने मैच का 53वां विनर्स लगाते हुए मैच समाप्त कर दिया। सेमीफाइनल में जोकोविच के सामने सितसिपास की चुनौती होगी जिन्होंने हैम्बर्ग ओपन के विजेता आंद्रेई रुब्लेव को लगातार सेटों में हराया।
 
जोकोविच का सितसिपास के खिलाफ 3-2 का करियर रिकॉर्ड है। सितसिपास ने जोकोविच को 2 बार एटीपी मास्टर्स 1000 टूर्नामेंटों में हराया है। ग्रैंड स्लेम में दोनों का यह पहला मुकाबला होगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

IPL 13: अपने पसंदीदा मैदान शारजाह पर Delhi Capitals का विजय अभियान रोकने उतरेंगे Rajasthan Royals