Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पहली बार एशिया से बाहर खेला जाएगा कबड्डी विश्वकप, इस देश को मिली मेजबानी

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 12 नवंबर 2022 (17:39 IST)
नई दिल्ली: विश्व कबड्डी महासंघ (डब्ल्यूकेएफ) द्वारा आयोजित कबड्डी विश्व कप 2025 की मेज़बानी इंग्लैंड के पश्चिमी मिडलैंड क्षेत्र को सौंपी गई है।डब्ल्यूकेएफ के अध्यक्ष अशोक दास ने शुक्रवार को यह घोषणा की।

दास ने बताया कि टूर्नामेंट का आयोजन पहली बार एशिया के बाहर होगा, जहां भारत, पाकिस्तान और ईरान सहित कुल 16 देश अपनी दावेदारी पेश करेंगे। इन 16 टीमों के चयन के लिये एशिया, यूरोप और अमेरिका में अलग-अलग कबड्डी चैंपियनशिप आयोजित होंगी, जिनमें से शीर्ष तीन देश विश्व कप के लिये क्वालीफाई करेंगे।

डब्ल्यूकेएफ और इंग्लैंड कबड्डी के अध्यक्ष दास ने कहा,“ ब्रिटेन के पश्चिमी मिडलैंड में कबड्डी विश्व कप के आयोजन का फैसला एकदम खरा है और यूरोप में इस खेल के विस्तार तथा वैश्विक वृद्धि के लिए मील का पत्थर साबित होगा। ”

ब्रिटेन में कबड्डी की बढ़ती लोकप्रियता के बीच अप्रैल और मई 2022 में पश्चिमी मिडलैंड क्षेत्र में ब्रिटेन कबड्डी लीग का आयोजन भी किया गया था। साथ ही, पश्चिमी मिडलैंड का बर्मिंघम शहर इस साल जुलाई और अगस्त में राष्ट्रमंडल खेल 2022 की मेजबानी भी कर चुका है।

दास ने कहा, “ कबड्डी हर किसी के लिए है, चाहे उसका लिंग, उम्र या सामाजिक पृष्ठभूमि कुछ भी हो। जैसा कि हमने इस साल ब्रिटिश कबड्डी लीग के लॉन्च में देखा, वेस्ट मिडलैंड ऐसा क्षेत्र है जो सकारात्मक सामुदायिक जुड़ाव को बढ़ावा देता है। ”
webdunia

पश्चिमी मिडलैंड के मेयर एंडी स्ट्रीट ने कबड्डी के शीर्ष टूर्नामेंट की मेजबानी मिलने पर कहा, “ कबड्डी दक्षिण एशिया का लोकप्रिय खेल है। खासकर भारत में यह आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) के बाद दूसरा सबसे लोकप्रिय खेल है। दक्षिण एशियाई धरोहर के कई समुदाय पश्चिमी मिडलैंड को अपना घर कहते हैं। यह देखते हुए, हम पहली बार एशिया के बाहर होने वाले कबड्डी विश्व कप की मेजबानी करके सम्मानित महसूस कर रहे हैं। ”

एंडी ने कहा, “ बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेल 2022 की सफलता के बाद हम अपनी 'प्रमुख खेल आयोजन' नीति के माध्यम से ऐसे वैश्विक टूर्नामेंट आकर्षित करने के लिये प्रतिबद्ध हैं जो खेलों की विरासत पर निर्मित हैं और स्थानीय लोगों से संबंध रखते हैं। ”

गौरतलब है कि दास की अध्यक्षता वाले डब्ल्यूकेएफ की शुरुआत 2018 में की गई थी और 2019 में उन्होंने अपने परचम के तले पहली बार कबड्डी विश्व कप का आयोजन मलेशिया में किया था। इससे पहले अंतरराष्ट्रीय कबड्डी महासंघ (आईकेएफ) 2004, 2007 और 2016 में कबड्डी विश्व कप का आयोजन कर चुका है।(वार्ता)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

T20 World Cup Final में पहुंचे इंग्लैंड और पाकिस्तान की 11 बड़ी बातें