मनीषा की दमदार जीत, अगले दौर में विश्व चैम्पियन से टक्कर

शुक्रवार, 16 नवंबर 2018 (19:00 IST)
नई दिल्ली। फार्म में चल रही भारतीय बैंथमवेट मुक्केबाज मनीषा मोन ने शुक्रवार को यहां केडी जाधव हाल में शुरुआती दौर के मुकाबले में अमेरिका की अनुभवी और 2016 विश्व चैम्पियनशिप की कांस्य पदकधारी क्रिस्टीना क्रूज पर 5–0 से शानदार जीत दर्ज कर प्री क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।
 
 
मनीषा (57 किग्रा) अब क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के लिए 18 नवंबर को कजाखस्तान की डिना जोलामैन से भिड़ेंगी, जिन्होंने मिजुकी हिरूता को 4-1 से हराया। 
 
युवा मुक्केबाज मनीषा के लिए यह जीत इसलिए भी अहम रही क्योंकि उन्हें पहले ही दौर में विश्व चैम्पियनशिप की पदकधारी क्रिस्टीना से भिड़ना पड़ा लेकिन अब प्री क्वार्टर फाइनल में उनकी चुनौती और बढ़ जाएगी क्योंकि उनका सामना अब 2016 विश्व चैम्पियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता से होगा।
 
आत्मविश्वास से भरी हरियाणा की इस बैंथमवेट मुक्केबाज ने जीत के बारे में कहा, मुझे खुशी हो रही है कि मैंने पहले दौर की बाधा पार कर ली। अगले दौर का मुकाबला मेरे लिए और ज्यादा चुनौतीपूर्ण होगी क्योंकि वह विश्व चैम्पियन रह चुकी है, लेकिन मैं इसके लिए भी तैयार हूं। 
 
वह पहले भी कजाखस्तान की विश्व चैम्पियन को हरा चुकी है। पोलैंड में हुई सिलेसियान ओपन प्रतियोगिता में उन्होंने डिना को और रूस की यूरोपीय चैम्पियन को हराया था, जिसके बाद फाइनल में हारकर उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा था।
 
मनीषा ने कोच की रणनीति के अनुसार शुरुआती दौर में क्रिस्टीना को समझना बेहतर समझा। इसके बाद ही उन्होंने अगले दो दौर में आक्रामकता बरती और क्रिस्टीना को पस्त किया। यह भारतीय मुक्केबाज इस साल फार्म में हैं, इंडिया ओपन में स्वर्ण पदक जीतने के बाद वह दो अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भी पोडियम स्थान हासिल कर चुकी हैं।
 
दोपहर के सत्र की सबसे दिलचस्प मुकाबला लाइटवेट (60 किग्रा) में ऑस्ट्रेलिया की राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदकधारी अंजा स्ट्राइड्समैन और शीर्ष वरीय फिनलैंड की मीरा पोटकोनेन के बीच रही। दोनों मुक्केबाज बराबरी पर लग रही थी लेकिन जीत मीरा को मिली।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख IND vs AUS : भारतीय टीम के पास ऑस्ट्रेलिया को हराने का सबसे सुनहरा मौका