Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जोकोविच छठे और नडाल पहले वर्ल्ड टूर फाइनल्स खिताब के लिए उतरेंगे

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
शुक्रवार, 13 नवंबर 2020 (19:28 IST)
लंदन। विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) 15 नवम्बर से शुरू हो रहे सत्र के आखिरी टूर्नामेंट एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल्स (World to Finals) में स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर (Roger Federer) के 6 बार खिताब जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी करने के लक्ष्य के साथ उतरेंगे जबकि नंबर दो खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल (Rafael Nadal) पहली बार इस खिताब को जीतने की कोशिश करेंगे।
 
टूर्नामेंट का ड्रॉ गुरुवार को निकाला गया और जोकोविच ग्रुप टोक्यो 1970 की अगुवाई करेंगे। नडाल ग्रुप लंदन 2020 की अगुवाई करेंगे । सत्र के इस आखिरी टूर्नामेंट में इसमें क्वालीफाई करने वाले शीर्ष आठ खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं।
 
जोकोविच के ग्रुप में पेरिस मास्टर्स के विजेता रूस के डेनिल मेदवेदेव, जर्मनी के एलेक्जेंडर जवेरेव और अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्ट्जमैन शामिल हैं। जोकोविच का इस सत्र में 39-3 का रिकॉर्ड है और वह 13 वीं बार इस टूर्नामेंट में खेल रहे हैं।
 
जोकोविच ने 2008, 2012, 2013, 2014, 2015 में पांच बार यह खिताब जीता है। जोकोविच और अमेरिका के पीट सम्प्रास पांच खिताब के साथ एक बराबरी पर हैं। फेडरर ने छह बार 2003, 2004, 2006, 2007, 2010, 2011 में यह खिताब जीता है। घुटनों की सर्जरी के कारण फेडरर लम्बे समय से कोर्ट से बाहर चल रहे हैं।
webdunia
नडाल रिकॉर्ड 16वीं बार इस टूर्नामेंट में खेल रहे हैं। नडाल के ग्रुप लंदन 2020 में ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम, यूनान के स्तेफानोस सितसिपास और रूस के आंद्रेई रुब्लेव शामिल हैं। 20 ग्रैंड स्लेम खिताबों के विजेता नडाल 2005 से हर साल इस टूर्नामेंट में खेले हैं लेकिन कभी यह खिताब नहीं जीत पाए हैं।
 
नडाल का इस सत्र में दो खिताब सहित 25-5 का रिकॉर्ड है। वह हाल में पेरिस मास्टर्स के सेमीफाइनल में हार गए थे। नडाल पेरिस मास्टर्स का खिताब भी कभी नहीं जीत पाए हैं। टूर्नामेंट में जोकोविच का पहला मुकाबला श्वार्ट्जमैन से और नडाल का पहला मुकाबला रुब्लेव से होगा।
 
तीसरी सीड थिएम ने इस साल यूएस ओपन का खिताब जीता था। ज़्वेरेव 2018 में और सितसिपास 2019 में लंदन में विजेता रह चुके हैं। रुब्लेव और श्वार्ट्जमैन पहली बार इस टूर्नामेंट में खेल रहे हैं। मेदवेदेव और ज़्वेरेव ने हाल में पेरिस मास्टर्स का फाइनल खेला था और मेदवेदेव ने पहली बार पेरिस मास्टर्स का खिताब जीता था।
 
एटीपी फाइनल्स का यह 50वां संस्करण है। इसका आयोजन पहली बार 1970 में टोक्यो में हुआ था। लंदन में टूर्नामेंट का यह 12वां और आखिरी संस्करण है। अगले वर्ष से यह टूर्नामेंट इटली के तूरीन में आयोजित होगा।
 
दोनों ग्रुप इस प्रकार हैं : ग्रुप टोक्यो 1970 : नोवाक जोकोविच, डेनिल मेदवेदेव, एलेक्जेंडर ज़्वेरेव, डिएगो श्वार्ट्जमैन। ग्रुप लंदन 2020 : राफेल नडाल, डोमिनिक थिएम, स्तेफानोस सितसिपास, आंद्रेई रुब्लेव। 
 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
ऑस्ट्रेलिया सरकार ने Team India के खिलाड़ियों के परिवारों को भी साथ में ठहरने की अनुमति दी