बिकवाली के दबाव में सेंसेक्‍स टूटा, निफ्टी भी लुढ़का

बुधवार, 23 जनवरी 2019 (16:47 IST)
मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच एफएमसीजी, बिजली और सीडी जैसे समूहों में रही बिकवाली के दबाव में बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बुधवार को 336.17 अंक की गिरावट के साथ 36,108.47 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 91.25 अंक लुढ़ककर 10,831.50 अंक पर बंद हुआ।


शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स बढ़त के साथ 36,494.12 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 36,521.47 अंक के दिवस के उच्चतम और 36,037.90 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.92 फीसदी की गिरावट में 36,108.47 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से मात्र आठ कंपनियां हरे निशान में जगह बना पाईं।

बसे अधिक दबाव आज एफएमसीजी क्षेत्र की कंपनी आईटीसी को झेलना पड़ा। कंपनी ने चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में उम्मीद से कमतर चार फीसदी का शुद्ध लाभ अर्जित किया जिससे कंपनी के शेयरों में भारी बिकवाली हुई और इसके दाम 4.16 प्रतिशत लुढ़क गए।

निफ्टी भी तेजी के साथ 10,931.05 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 10,944.80 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,811.95 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.84 प्रतिशत लुढ़ककर 10,831.50 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 31 कंपनियां गिरावट में और 19 तेजी में रहीं।

विश्लेषकों के मुताबिक अमेरिका और जापान के नकारात्मक आर्थिक आंकड़े और अमेरिका में जारी शटडाउन पूरे कारोबार के दौरान शेयर बाजार पर हावी रहा। अमेरिका और चीन के संबंधों में नई तनातनी के संबंध में आई मीडिया रिपोर्ट का भी निवेश धारणा पर प्रतिकूल प्रभाव रहा।

दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मझोली कंपनियों पर भी बिकवाली का दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 0.28 प्रतिशत यानी 42.41 अंक की गिरावट में 14,882.86 अंक पर और स्मॉलकैप 0.16 प्रतिशत यानी 22.43 अंक की गिरावट में 14,309.25 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,689 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें से 144 कंपनियों के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे जबकि 1,477 में गिरावट और 1,068 में तेजी रही।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख उसेन बोल्ट ने छोड़ा फुटबॉलर बनने का इरादा, बनना चाहते हैं व्‍यवसायी