Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

शुरुआती गिरावट के बाद रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा सेंसेक्स

webdunia
बुधवार, 6 नवंबर 2019 (16:55 IST)
मुंबई। मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल में अधूरे रहे आर्थिक सुधारों को आगे बढ़ाने संबंधी वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के बयान के बाद बैंकिंग तथा वित्तीय कंपनियों में लिवाली से घरेलू शेयर बाजार बुधवार को शुरुआती गिरावट से उबरने में कामयाब रहे तथा बीएसई का सेंसेक्स नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया।

सेंसेक्स बीच कारोबार में 40,606.91 अंक की ऐतिहासिक ऊंचाई को छूने के बाद गत दिवस के मुकाबले 221.55 अंक यानी 0.55 प्रतिशत की बढ़त में 40,469.78 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 48.85 अंक यानी 0.41 प्रतिशत की मजबूती के साथ 11,966.05 अंक पर बंद हुआ जो 11 जून के बाद का इसका उच्चतम स्तर है। बीच कारोबार में यह 12 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर 12,002.90 अंक तक पहुंचने में कामयाब रहा। इस साल 11 जून के बाद यह पहला मौका है जब निफ्टी 12 हजार अंक के पार पहुंचा है।

श्रीमती सीतारमण के बयान के बाद निजी बैंकिंग तथा वित्तीय कंपनियों में लिवाली तेज हो गई। रियलिटी, बैंकिंग और वित्त समूहों में सबसे ज्यादा बढ़त रही। सेंसेक्स की कंपनियों में आईसीआईसीआई बैंक के शेयर ढाई प्रतिशत से अधिक चढ़े। एचडीएफसी और इंडसइंड बैंक में करीब पौने 2 फीसदी, एचडीएफसी बैंक में करीब डेढ़ फीसदी और टाटा मोटर्स में सवा प्रतिशत से अधिक की तेजी देखी गई।

भारती एयरटेल ने सवा 3 प्रतिशत से अधिक का नुकसान उठाया। रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज फाइनेंस, ओएनजीसी और मारुति सुजुकी के शेयर भी एक फीसदी के करीब टूटे। सेंसेक्स 63.62 अंक की बढ़त में 40,311.85 अंक पर खुला और खुलते ही लाल निशान में चला गया। दोपहर से पहले यह 40,037.53 अंक तक उतर गया।

हालांकि बाद में बड़ी कंपनियों में लिवाली होने से यह हरे निशान में लौटने में कामयाब रहा। बीच कारोबार में 40,606.91 अंक के ऐतिहासिक स्तर को छूने के बाद यह गत दिवस की तुलना में 221.55 अंक ऊपर 40,469.78 अंक के नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 16 कपंनियां हरे निशान में और शेष 14 लाल निशान में रहीं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

क्या आपकी PF पेंशन होगी 7500 रुपए?