उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में 170 अंक से ज्यादा चढ़ा सेंसेक्स

बुधवार, 11 दिसंबर 2019 (17:11 IST)
मुंबई। कच्चे तेल की कीमतों में नरमी के बीच वाहन, सूचना प्रौद्योगिकी तथा तेल एवं गैस कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बुधवार को सेंसेक्स 170 अंक से अधिक की तेजी के साथ 40,412 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई के 30 शेयरों वाले संवेदी सूचकांक सेंसेक्स में कारोबार के दौरान करीब 330 अंकों का उतार-चढ़ाव रहा। यह अंतत: 172.69 अंक यानी 0.43 प्रतिशत की तेजी के साथ 40,412.57 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 53.35 अंक यानी 0.45 प्रतिशत की बढ़त लेकर 11,910.15 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की कंपनियों में एनटीपीसी में सर्वाधिक 2.77 प्रतिशत की तेजी रही। इसके बाद ओएनजीसी, टेक महिंद्रा, कोटक बैंक, टीसीएस, एशियन पेंट्स, इंडसइंड बैंक और टाटा मोटर्स में 2.28 प्रतिशत तक की तेजी रही।

इनसे इतर येस बैंक में 15.33 प्रतिशत की गिरावट रही। इसके साथ ही वेदांता, हीरो मोटोकॉर्प, एलएंडटी, भारती एयरटेल और हिंदुस्तान यूनिलीवर में 1.63 प्रतिशत तक की गिरावट रही। एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने 2019-20 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान 6.5 प्रतिशत से घटाकर बुधवार को 5.1 प्रतिशत कर दिया।

एडीबी एशियाई विकास परिदृश्य 2019 के एक अनुपूरक में कहा कि एक प्रमुख गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) के 2018 में डूब जाने से वित्तीय क्षेत्र में जोखिम के उभार तथा ऋण उपलब्धता की तंगी के कारण दक्षिण एशिया में भारत की वृद्धि दर वित्तवर्ष 2019-20 में कम होकर 5.1 प्रतिशत पर आ जाने का अनुमान है।

उसने कहा कि इसके साथ ही खराब फसल से ग्रामीण क्षेत्र की बदहाल स्थिति तथा रोजगार की धीमी वृद्धि दर ने उपभोग को प्रभावित किया है। अनुकूल नीतियों के कारण वृद्धि दर के 2020-21 में बढ़कर 6.5 प्रतिशत पर पहुंच जाने का अनुमान है। इस बीच रुपया 14 पैसे की बढ़त के साथ 70.78 रुपए प्रति डॉलर पर चल रहा था। कच्चा तेल का वायदा 0.40 प्रतिशत लुढ़ककर 64.08 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख रुपए में मजबूती से सोना 73 रुपए फिसला, चांदी भी पड़ी फीकी