Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जबरदस्त लिवाली से सेंसेक्स और निफ्टी नए रिकॉर्ड स्तर पर

webdunia
सोमवार, 14 जून 2021 (19:26 IST)
मुंबई। रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में जबरदस्त लिवाली से सोमवार को सेंसेक्स और निफ्टी शुरुआती नुकसान से उबरकर अपने नए सर्वकालिक उच्च स्तर पर बंद हुए। सेंसेक्स 76.77 अंक या 0.15 प्रतिशत के लाभ से 52,551.53 अंक और निफ्टी 12.50 अंक या 0.08 प्रतिशत के लाभ से 15,811.85 अंक के अपने नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ।

कारोबारियों ने कहा कि वैश्विक बाजारों के सकारात्मक रुख तथा कोविड-19 के नए मामलों में कमी से भी बाजार की धारणा मजबूत हुई। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 76.77 अंक या 0.15 प्रतिशत के लाभ से 52,551.53 अंक पर बंद हुआ। यह इसका नया उच्च स्तर है। सेंसेक्स लगातार तीसरे दिन लाभ के साथ बंद हुआ।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 12.50 अंक या 0.08 प्रतिशत के लाभ से 15,811.85 अंक के अपने नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की कंपनियों में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर सबसे अधिक 1.46 प्रतिशत चढ़ गया। बजाज फाइनेंस, ओएनजीसी, इन्फोसिस, पावरग्रिड, एलएंडटी और इंडसइंड बैंक के शेयर भी लाभ में रहे।

वहीं दूसरी ओर कोटक बैंक, एचडीएफसी, सन फार्मा, बजाज ऑटो, एनटीपीसी, मारुति और एचडीएफसी बैंक के शेयर 1.51 प्रतिशत तक टूट गए। इस बीच, अडाणी समूह की कंपनियों के शेयरों में जोरदार गिरावट आई। इसकी वजह इस तरह की खबरें हैं कि नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लि. (एनएसडीएल) ने तीन विदेशी कोषों के खातों को फ्रीज कर दिया है।

ये विदेशी कोष समूह की कंपनियों में सबसे बड़े शेयरधारक हैं। हालांकि अडाणी समूह ने कहा कि उसके बाद लिखित में इस बात की पुष्टि है कि इन तीन विदेशी कोषों के खातों को फ्रीज नहीं किया गया है। इस बारे में खबरें भ्रामक हैं।

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, हालांकि घरेलू बाजार नकारात्मक रुख के साथ खुले, लेकिन बड़ी कंपनियों की अगुवाई में दोपहर के कारोबार में ये उबर गए। मई की थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति 12.94 प्रतिशत पर पहुंच गई है, जिससे पता चलता है कि ईंधन और विनिर्मित उत्पादों के दाम ऊंचे स्तर पर हैं।

नायर ने कहा कि फेडरल रिजर्व की बैठक 15-16 जून को होगी। इससे आगामी दिनों में निवेशको का रुख तय होगा। बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप में 0.68 प्रतिशत की गिरावट आई। अन्य एशियाई बाजारों में जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी लाभ में रहे।

चीन और हांगकांग के बाजारों में अवकाश था। दोपहर के कारोबार में यूरोपीय बाजार बढ़त में थे। इस बीच, अंतराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल 0.94 प्रतिशत की बढ़त के साथ 73.37 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 22 पैसे टूटकर 73.29 प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में एक दिन में कोविड-19 संक्रमण के 70,421 मामले आए हैं। यह 74 दिन का सबसे निचला आंकड़ा है। इससे कुल सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 10 लाख से नीचे आ गई है।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मोदी की बधाई का इसराइल के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री बेनेट ने दिया यह जवाब...