Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सेंसेक्स 322 अंक चढ़कर फिर 60 हजार अंक के पार

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 12 सितम्बर 2022 (20:16 IST)
मुंबई। शेयर बाजारों में सोमवार को लगातार तीसरे कारोबारी सत्र में तेजी दर्ज की गई और बीएसई सेंसेक्स करीब 322 अंक चढ़कर 60,000 अंक के पार बंद हुआ। वैश्विक बाजारों के सकारात्मक रुख और बैंक, सूचना प्रौद्योगिकी तथा ऊर्जा कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बाजार में तेजी आई।
 
तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 321.99 अंक यानी 0.54 प्रतिशत की मजबूती के साथ तीन सप्ताह के उच्चस्तर 60,115.13 अंक पर बंद हुआ। शुरुआती कारोबार में मजबूती के साथ खुलने के बाद सेंसेक्स ऊंचे में 60,284.55 अंक तक गया और नीचे में 59,912.29 अंक तक आया।
 
इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 103 अंक यानी 0.58 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 17,936.35 अंक पर बंद हुआ। पिछले तीन कारोबारी सत्रों के दौरान सेंसेक्स में 1,086 अंक और निफ्टी में 312 अंक का उछाल आया है।
 
विदेशी निवेशकों की लिवाली, कच्चे तेल के 93 डॉलर प्रति बैरल के आसपास कारोबार करने और वृहद आर्थिक आंकडों से भी निवेशकों की धारणा को समर्थन मिला।
 
जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि घरेलू अर्थव्यवस्था में मजबूती देखी जा रही है, जो घरेलू शेयर बाजार में स्थिर वृद्धि में सहायता कर रही है। बैंक ऋण में अगस्त के दौरान सालाना आधार पर 15.5 प्रतिशत की वृद्धि से पता चलता है कि अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधार आ रहा है।
 
नायर ने कहा कि खाद्य पदार्थों की बढ़ती कीमतों के कारण घरेलू मुद्रास्फीति के आंकड़े जुलाई में 6.7 प्रतिशत से धीरे-धीरे बढ़ने का अनुमान है, जिससे अल्पावधि में अस्थिरता बढ़ सकती है।
 
सेंसेक्स के शेयरों में टाइटन में सबसे अधिक 2.39 प्रतिशत की तेजी आई। एक्सिस बैंक, टेक महिंद्रा और टाटा स्टील, आरआईएल, इन्फोसिस, टीसीएस, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज फाइनेंस और एलएंडटी भी प्रमुख रूप से लाभ में रहे। दूसरी तरफ एचडीएफसी का शेयर सबसे अधिक 0.43 प्रतिशत टूट गया तथा एचडीएफसी बैंक और नेस्ले के शेयर भी गिरावट में बंद हुए। 
 
जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वीके विजयकुमार ने कहा कि शेयर बाजार के बेहतर प्रदर्शन का कारण मजबूत आर्थिक सुधार है। आरबीआई की रिपोर्ट में बैंक ऋण वृद्धि के 15.5 प्रतिशत पर पहुंचना इस तथ्य की पुष्टि करता है। इसके अलावा बीएसई मिडकैप में 0.52 प्रतिशत तथा स्मॉलकैप में एक प्रतिशत का उछाल दर्ज किया गया है।
 
एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की मजबूती के साथ बंद हुआ जबकि हांगकांग का हैंगसेंग, चीन का शंघाई कंपोजिट और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी अवकाश के कारण बंद थे। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 28 सेंट की वृद्धि के साथ 93.12 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।
 
शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक शुद्ध लिवाल रहे। उन्होंने शुक्रवार को 2,132.42 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Holidays in September 2022 : जल्द निपटा लें बैंकों के काम , सितंबर में हैं इतनी छुट्टियां