Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

तालिबान राज में पहली बार सीनियर अफगानिस्तान टीम उतरी मैदान पर, दक्षिण अफ्रीका से अभ्यास मैच में मिली करारी हार

webdunia
सोमवार, 18 अक्टूबर 2021 (21:39 IST)
अबुधाबी: तालिबान शासन में पहली बार अफगानिस्तान क्रिकेट टीम ने पहली बार मैदान पर कदम रखा लेकिन नतीजा वह नहीं मिला जो उन्हें चाहिए था।

एडेन मार्कराम की 48 रन की पारी के बाद तबरेज शम्सी (18 रन पर तीन विकेट) की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर दक्षिण अफ्रीका ने टी20 विश्व कप के अभ्यास मैच में सोमवार को यहां अफगानिस्तान पर 41 रन की बड़ी जीत दर्ज की।

दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया और 20 ओवर में पांच विकेट पर 145 रन बनाने के बाद अफगानिस्तान को आठ विकेट पर 104 रन ही बनाने दिये।

अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक (07) के सस्ते में पवेलियन लौटने के बाद तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आये मार्कराम ने 35 गेंद की पारी में दो चौके और दो छक्के लगाये। उन्हें सलामी बल्लेबाज और कप्तान तेम्बा बावुमा का अच्छा साथ मिला। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 52 रन की साझेदारी की। बावुमा ने 39 गेंद में 31 रन की पारी में दो चौके लगाये।

दक्षिण अफ्रीका के लिए रासी वान डेर डुसेन से 21 और डेविड मिलर ने आखिरी ओवर में 10 गेंद में नाबाद 20 रन की पारी खेली।

अफगानिस्तान की ओर से राशिद खान ने गेंदबाजी नहीं की। मुजीब उर रहमान ने चार ओवर में 24 रन देकर तीन विकेट लिये। कप्तान मोहम्मद नबी और नवीन उल हक ने एक-एक विकेट लिये।

लक्ष्य का पीछा करते हुए अफगानिस्तान की शुरुआत बेहद खराब रही। शुरुआती दो ओवरों में टीम के दोनों सलामी बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद और हजरतउल्लाह जजई बिना खाते खोले पवेलियन लौट गये।

टीम इस झटके से उबर नहीं पायी और बल्लेबाज पूरी पारी के दौरान संघर्ष करते दिखे। नबी ने 29 गेंद में 34 रन की नाबाद पारी खेली लेकिन वह टीम के लिए काफी नहीं था।

दक्षिण अफ्रीका के लिए शम्सी के तीन विकेट के अलावा लुंगी एनगिडी ने दो जबकि ब्योर्न फोर्टीन, डवेन प्रिटोरियस और केशव महाराज ने एक-एक विकेट लिया।
webdunia

कुछ रोज पहले ही अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के कप्ताान बनाये गए मोहम्मद नबी ने स्वीकार किया था कि टी20 विश्व कप में टीम की कप्तानी कठिन है लेकिन वह अपनी टीम को आगे तक ले जाने की पूरी कोशिश करेंगे। नबी को दस अक्टूबर को अफगानिस्तान टीम का कप्तान बनाया गया चूंकि स्टार हरफनमौला राशिद खान ने यह कहकर कप्तान बनने से इनकार कर दिया कि टीम चुनने से पहले उनकी राय नहीं ली गई थी।

'कप्तान के तौर पर खेलने को लेकर रोमांचित हूं'

36 वर्ष के नबी 2013 से 2015 के बीच भी टीम के कप्तान रह चुके हैं। उन्होंने टी20 विश्व कप से पहले मीडिया से कांफ्रेंस कॉल में कहा था, 'कप्तानी काफी कठिन जिम्मेदारी है। मैं अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा कि टीम टूर्नामेंट में अच्छा खेले। कप्तान के तौर पर खेलने को लेकर काफी रोमांचित हूं।' अफगानिस्तान टीम को पहला मैच 25 अक्टूबर को पहले दौर की क्वालीफायर टीम से खेलना है। उसे ग्रुप दो में भारत, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड और एक क्वालीफायर के साथ रखा गया है।

कप्तान नबी ने तालिबान पर बोलने से किया इनकार

तालिबान के अफगानिस्तान में सत्तारूढ होने के बावजूद टीम ने विश्व कप में जगह बनाई है। अमेरिकी सेनाओं के पीछे हटने के बाद अफगानिस्तान में काफी रक्तपात और हिंसा हुई। नबी ने इस मसले पर बोलने से इनकार कर दिया और सिर्फ वीजा दिक्कतों का जिक्र किया। उन्होंने कहा, 'टीम पिछले डेढ़ महीने से तैयारी कर रही है। वीजा मामले में कुछ दिक्कतें आई जिसकी वजह से खिलाड़ी यूएई जल्दी नहीं आ सके। वे कतर में अभ्यास कर रहे थे।'

एंडी फ्लावर अफगानिस्तान के बल्लेबाजी सलाहकार

जिम्बाब्वे के पूर्व क्रिकेटर और इंग्लैंड के कोच रहे एंडी फ्लावर अफगानिस्तान के बल्लेबाजी सलाहकार होंगे जबकि दक्षिण अफ्रीका के लांस क्लूसनर मुख्य कोच और आस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज शॉन टैट गेंदबाजी कोच होंगे।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

इंग्लैंड के एक भी बल्लेबाज ने नहीं जड़े 50 फिर भी भारत के खिलाफ बनाया 188 का बड़ा स्कोर