Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

प्रियंका का यूपी सरकार पर तीखा प्रहार, कहा- न जनता के मुद्दों की समझ न सरोकार, बस हवाई दावों की सरकार

हमें फॉलो करें webdunia
रविवार, 12 सितम्बर 2021 (21:46 IST)
रायबरेली (यूपी)। उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर संगठन की लगातार बैठकें कर रहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा रविवार को 2 दिवसीय दौरे पर रायबरेली पहुंचीं और कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाया तथा राज्य सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि उसे न जनता के मुद्दों की समझ है और न ही उनसे कोई सरोकार है, बस झूठे विज्ञापन और हवाई दावों की सरकार है।

 
बृहस्पतिवार की शाम उत्तरप्रदेश के दौरे पर पहुंचीं कांग्रेस महासचिव एवं उत्तरप्रदेश मामलों की पार्टी प्रभारी प्रियंका रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष एवं अपनी मां सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली पहुंचीं तथा अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाया। प्रियंका ने फेसबुक और ट्विटर के माध्यम से योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उप्र सरकार पर निशाना साधते हुए तीखा प्रहार किया।

 
उन्होंने फेसबुक पर अपने पोस्ट में लिखा कि पहले रोजगार के झूठे विज्ञापन देते पकड़े गए। अब इनके फ्लाईओवर व फैक्‍टरी की झूठी तस्‍वीरों वाले विज्ञापन की कलई खुल गई। उत्तरप्रदेश की जनता इनकी हवाई बातों की हकीकत समझ चुकी है और उत्तर प्रदेश में जनता सरकार तथा मुख्यमंत्री बदलने जा रही है।
 
प्रियंका ने ट्विटर पर लिखा कि इनका (राज्य सरकार) काम ही है झूठे विज्ञापन देना। फर्जी लेखपाल बनाकर उप्र के युवाओं को रोजगार देने का झूठ बोला और अब फ्लाईओवर तथा फैक्टरियों की फर्जी तस्वीरें लगाकर विकास के झूठे दावे कर रहे हैं। न जनता के मुद्दों की समझ है और न ही उनसे कोई सरोकार है, बस झूठे विज्ञापन और हवाई दावों की सरकार है, वहीं कांग्रेस के एक नेता ने बताया कि पार्टी महासचिव ने कार्यकर्ताओं से मुलाकात के दौरान उन्हें बताया कि पार्टी इस बार उम्मीदवारों की सही समय पर घोषणा करने की योजना बना रही है।
 
इंदिरा गांधी के जमाने से गांधी परिवार का गढ़ रहे रायबरेली संसदीय क्षेत्र में 5 विधानसभा क्षेत्र हैं जिनमें हरचंदपुर, रायबरेली, बछरावां, सरेनी और ऊंचाहार क्षेत्र आते हैं। इनमें 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 2, भाजपा को 2 और समाजवादी पार्टी को 1 सीट मिली थी। 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उत्तरप्रदेश में 7 सीटों पर सिमट गई थी। तब अमेठी संसदीय क्षेत्र में चार विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा और 1 में सपा जीती लेकिन कांग्रेस 1 भी विधानसभा सीट नहीं जीत पाई थी। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से कांग्रेस नेता राहुल गांधी अमेठी संसदीय क्षेत्र में पराजित हो गए थे।

 
राजनीतिक विश्‍लेषकों के मुताबिक प्रियंका अगले वर्ष होने वाले चुनाव के दृष्टिगत गांधी परिवार के इस गढ़ को मजबूत बनाने के इरादे से दौरे पर आई हैं। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि 2 दिवसीय दौरे पर रायबरेली पहुंचीं प्रियंका ने सबसे पहले चुरुवा बॉर्डर पर हनुमान मंदिर में पूजा-अर्चना की और उसके बाद बछरावां, हरचंदपुर, सिविल लाइन तथा जगदीशपुर गांव में कार्यकर्ताओं ने फूल मालाओं से उनका स्वागत किया।

 
उन्होंने बताया कि प्रियंका का काफिला पूर्वाह्न करीब पौने बारह बजे भुएमऊ गेस्ट हाउस पहुंचा जिसके बाद उन्होंने जिला, शहर इकाई के पदाधिकारियों और आनुषंगिक संगठनों के पदाधिकारियों एवं पूर्व विधायकों और जिला पंचायत सदस्यों से मुलाकात की। पार्टी के नेता ने बताया कि प्रियंका ने सांगठनिक बैठकों में हिस्सा लेकर कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनाव के लिए कठिन परिश्रम का मंत्र दिया। कांग्रेस से मिली जानकारी के अनुसार रायबरेली की बैठक के बाद प्रियंका अमेठी के लिए रवाना हो गईं। अमेठी में वह तिलोई विधानसभा क्षेत्र के डोडरपुर गांव में पहुंचेंगी जहां दीवार गिरने से पिछले दिनों 3 बच्‍चों की मौत हो गई थी। वह पीड़ित परिवार से मिलकर शोक संवेदना प्रकट करेंगी।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

UP Assembly Election 2022 : क्या उत्तर प्रदेश का चुनाव ‘अयोध्या’ से लड़ा जाएगा? सभी पार्टियों के फोकस में राम की नगरी है