Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

5 महिलाओं सहित एक दर्जन से अधिक भारतवंशियों ने अमेरिकी चुनाव में दर्ज की जीत

webdunia
गुरुवार, 5 नवंबर 2020 (12:31 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका में राष्ट्रपति पद के साथ-साथ कई राज्यों में भी हुए चुनावों में 5 महिलाओं सहित एक दर्जन से अधिक भारतवंशियों ने जीत दर्ज की है। कई मायनों में भारतीय-अमेरिकी समुदाय के लिए ऐसा पहली बार हुआ है।
 
इनके अलावा 4 भारतीय मूल के उम्मीदवार (डॉ. एमी बेरा, प्रमिला जयपाल, रो खन्ना और राजा कृष्णमूर्ति) अमेरिकी कांग्रेस के निम्न सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव के लिए दोबारा निर्वाचित हुए हैं, वहीं भारतीय मूल के कम से कम 3 ऐसे प्रत्याशी हैं जिनका फैसला नहीं हुआ है और इनमें एक हाउस ऑफ रिप्रजंटेटिव के लिए मैदान में है।
राज्य विधायिकाओं के लिए भारतीय मूल की जो 5 महिलाएं निर्वाचित हुई हैं, उनमें न्यूयॉर्क राज्य विधानसभा के लिए जेनिफर राजकुमार, केंटुकी राज्य विधानसभा के लिए नीमा कुलकर्णी, वरमोंट राज्य सीनेट के लिए केशा राम, वॉशिंगटन राज्य विधानसभा के लिए वंदना स्लेट्टर और मिशिगन राज्य विधानसभा के लिए पद्मा कुप्पा शामिल हैं, वहीं नीरज अंतानी को ओहायो राज्य सीनेट के लिए निर्वाचित घोषित किया गया है।
 
जय चौधरी नॉर्थ कैरोलाइना राज्य सीनेट के लिए दोबारा निर्वाचित हुए हैं। एरिजोना राज्य विधानसभा के चुनाव में अमीश शाह ने जीत दर्ज की है। निखिल सावल पेन्सिलवेनिया राज्य सीनेट और राजीव पुरी मिशिगन राज्य विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए हैं।
चुनाव के नतीजों के मुताबिक जर्मी कूनी ने न्यूयॉर्क राज्य सीनेट में अपनी सीट पक्की है जबकि अश कालरा लगातार तीसरी बार कैलीफोर्निया विधानसभा के लिए निर्वासित हुए हैं। रवि सांडिल ने टेक्सास के डिस्ट्रिक्ट कोर्ट जज के चुनाव में जीत दर्ज की है।
 
केशा राम पहली गैर श्वेत महिला हैं, जो वरमोंट राज्य सीनेट के लिए निर्वाचित हुई हैं। निखिल सावल पहले भारतीय अमेरिकी हैं, जो पेन्सिलवेनिया विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए हैं। जेनिफर राजकुमार न्यूयॉर्क की विधायिका में निर्वाचित होने वाली पहली दक्षिण एशियाई महिला हैं जबकि नीरज अंतानी ओहायो राज्य सीनेट पहुंचने वाले पहले भारतीय अमेरिकी बने हैं।
 
सेंटर फॉर अमेरिकन प्रोग्रेस के मुताबिक इस साल के चुनाव में करीब 20 लाख भारतीयों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया है, वहीं डॉ. हीरल तिपिरनेनी एरिजोना से हाउस ऑफ रिप्रजंटेटिव पहुंचने के लिए हल्की बढ़त बनाए हुए हैं, वहीं न्यूजर्सी राज्य सीनेट के लिए लड़ रहे रूपांडे मेहता और पेन्सिलवेनिया ऑडिटर जनरल के लिए चुनाव लड़ रहे नीना अहमद का फैसला आना बाकी है।
 
अमेरिकी कांग्रेस के लिए चुनाव लड़ रहीं 2 महिलाओं सहित 4 भारतवंशियों को हार मिली है। इनमें प्रेस्टन कुलकर्णी को टेक्सास, मंगा अनंतत्मुल को वर्जीनिया और निशा शर्मा एवं रितेश टंडन को कैलीफोर्निया से हार मिली है। भारतीय मूल की राजनेता सारा गिडियोन और रिक मेहता को क्रमश: मेइन और न्यूजर्सी राज्य सीनेट चुनाव में हार मिली है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

फ्रांस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने पर कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद पर कसा शिकंजा