Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Driving license को लेकर अब ट्रैफिक पुलिस को नहीं दे पाएंगे चकमा, जानिए नए नियम

webdunia
सोमवार, 28 सितम्बर 2020 (14:53 IST)
नई दिल्ली। अधिकतर लोग कार या बाइक चलाते कई बार फेक दस्तावेज दिखाकर भी ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) से बच जाते हैं, लेकिन अब ऐसा नहीं हो सकेगा। केंद्र सरकार ने मोटर वाहन नियम 1989 (Motor Vehicle Act) में संशोधन किया है। सरकार ने कहा कि एक सूचना प्रौद्योगिकी पोर्टल के माध्यम से 1 अक्टूबर 2020 से ड्राइविंग लाइसेंस (Driving license) और ई-चालान (E-Challan) सहित वाहन संबंधी दस्तावेजों का रखरखाव किया जाएगा।
 
सरकार के बयान में कहा गया कि वाहन दस्तावेजों के निरीक्षण के दौरान इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से वैध पाए गए वाहनों के दस्तावेजों के बदले भौतिक दस्तावेजों की मांग नहीं की जाएगी। यानी अब ट्रैफिक अधिकारियों के पास आपका हर डॉक्यूमेंट पहले से ही उपलब्ध रहेगा। आपको ड्रायविंग लाइसेंस और अन्य दस्तवाजों की हार्ड कॉपी रखने की आवश्यकता भी नहीं होगी।  
 
विशेषज्ञों के मुताबिक ट्रैफिक अधिकारियों के पास आपके ड्राइविंग लाइसेंस से जुड़ी सभी जानकारियां उपलब्ध होंगी। साथ ही सरकार ने कहा कि लाइसेंसिंग प्राधिकरण द्वारा अयोग्य या निरस्त किए गए ड्राइविंग लाइसेंस का विवरण पोर्टल में रिकॉर्ड किया जाएगा और उसे समय-समय पर अपडेट भी किया जाएगा। 
सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने बयान में कहा कि उसने मोटर वाहन नियम 1989 में किए गए विभिन्न संशोधनों के बारे में अधिसूचना जारी की है। इसमें मोटर वाहन नियमों की बेहतर निगरानी और क्रियान्वयन के लिए 1 अक्टूबर 2020 से पोर्टल के माध्यम से वाहन संबंधी दस्तावेजों और ई-चालान का रखरखाव किया जा सकेगा। 
webdunia
मोबाइल पर बात की तो 5 हजार तक का जुर्माना : नए नियमों में इस बात का भी प्रावधान है कि गाड़ी चलाते समय हाथ में मोबाइल फोन का इस्तेमाल केवल रूट नेविगेशन के लिए इस तरह से किया जाए वाहन चलाते समय ड्राइवर ध्यान न भटके। हालांकि ड्राइविंग करते समय मोबाइल से बात करने पर 1 से 5 हजार रुपए तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। 
आसान होगा ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना : नए नियमों में अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आपको ज्यादा दस्तावेजों की आवश्यकता नहीं होगी। केंद्र सरकार ने डीएल बनवाने के लिए नियमों को आसान कर दिया है। नए नोटिफिकेशन के मुताबिक अब आधार कार्ड का इस्तेमाल ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने, लाइसेंस का नवीनीकरण, गाड़ी का रजिस्ट्रेशन और इनसे जुड़े दस्तावेज में पता बदलने के लिए होगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

महात्मा गांधी के 2 पसंदीदा लेखक कौन थे?