Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Signs of Heart Attack: 10 संकेत जो बताते हैं कि हार्ट अटैक आने वाला है

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

अवनीश कुमार

यदि व्यक्ति हार्ट अटैक के संकेतों को पहचान ले तो समय रहते उसका जीवन बचाया जा सकता है। राजकीय हृदय रोग संस्थान कानपुर में कार्यरत प्रोफेसर हृदय रोग डॉ. अवधेश शर्मा ने वेबदुनिया से बातचीत के दौरान ऐसे ही संकेतों के बारे में चर्चा की है, जिनसे हार्ट अटैक के बारे में पहले से अनुमान लगाया जा सकता है। आइए डॉ. शर्मा से ही जानते हैं हार्ट अटैक 10 संकेत... 
 
1. सांस फूलना : अगर किसी व्यक्ति की सांस उसकी क्षमता से कम कार्य करने पर भी फूलने लगती है या फिर थोड़ा-सा भी चलने या काम करने पर उसकी सांस फूल जाती है और उसे आराम करने की आवश्यकता महसूस होती है तो यह लक्षण बताते हैं कि उसके हृदय की स्थिति अच्छी नहीं है। उसे अपने चिकित्सक से मिलने की आवश्यकता है।
 
ऐसे व्यक्तियों की अक्सर यह शिकायत होती है कि पहले वह यह सब कार्य सुगमता से कर लेते थे, परन्तु कुछ समय से वे असहज महसूस करने लगे हैं। बुजुर्गों, शुगर के मरीज़ों व गुर्दे की बीमारी के मरीज़ों में हार्ट अटैक के समय सीने में तेज दर्द के स्थान पर सांस ही फूलती है, जिसे की साइलेंट अटैक भी कहा जाता है। 
 
2. सीने में तेज दर्द : हार्ट अटैक का दर्द मुख्यतः सीने के बीचो-बीच में उठता है व काफी तेज व असहनीय होता है। मरीज को दर्द के साथ महसूस होता है जैसे कि सीने के बीचो-बीच किसी ने कोई भारी वजन रख कर सीने को दबा दिया हो। कुछ लोगों में ऐसा महसूस होता है कि कोई सीने को निचोड़ रहा है। यह दर्द प्रायः सीने के बाईं तरफ़ को होते हुए बाएं हाथ की छोटी अंगुली की तरफ व जबड़े और गर्दन की तरफ जाता है। 
 
कुछ लोगों में सिर्फ गर्दन और जबड़े में ही अचानक काफी तेज दर्द होता है। यह दर्द कोई भी कार्य करने पर बढ़ता है व आराम करने या सारबिट्रेट की गोली जीभ के नीचे रखकर चूसने पर कम होता है। मेजर अटैक में यह दर्द बिना कोई कार्य किए बैठे-बैठे हो सकता है। दर्द के साथ बहुत पसीना आना व घबराहट बेचैनी होना भी हार्ट अटैक की तरफ इशारा करता है। 
 
3. सीने में जलन : कुछ व्यक्तियों में सीने में अचानक जलन होना खासतौर से पेट के ऊपरी हिस्से में व साथ में मिचली व उल्टी की शिकायत होना भी हार्ट अटैक का एक लक्षण हो सकता है। अधिकांश लोग इस तरह की दिक्कत को गैस की समस्या समझकर मामूली बात मानकर बैठ जाते हैं, जबकि हार्ट अटैक होने के कारण यह जानलेवा साबित हो सकता है। यदि किसी व्यक्ति को शुगर, ब्लडप्रेशर, मोटापे आदि की शिकायत है व हार्ट अटैक की फ़ैमिली हिस्ट्री है या फिर वो धूम्रपान करते हैं और ऐसी दिक्कत महसूस होती है तो तुरंत चिकित्सक से परामर्श करें। 
 
4. अपच, पेट और सीने में भारीपन महसूस होना : पेट में अपच होना व पेट एवं सीने में भारीपन महसूस होना भी हार्ट अटैक का एक पूर्वानुमान हो सकता है। अतः इसे हल्के में ना लें व ऐसी दिक्कत होने पर अपने चिकित्सक से अवश्य मिलें।
 
5. थकान और घबराहट : अचानक बिना किसी कारण के काफी थकान महसूस होना व घबराहट व बेचैनी महसूस होना भी हार्ट अटैक का एक साइलेंट लक्षण हो सकता है। अगर थोड़ा सा भी कार्य करने पर थकान होने लगे जो कि पहले नहीं होती थी व घबराहट महसूस होने लगे तो बेहतर रहेगा कि आप अपने हृदय रोग विशेषज्ञ से मिलकर जांच कराएं। यह लक्षण भी हार्ट अटैक की पूर्व चेतावनी हो सकता है। 
 
6. चक्कर और बेचैनी : अचानक चक्कर आना या फिर बेहोश होकर गिर जाना भी हार्ट अटैक का एक लक्षण हो सकता है जो कि सामान्यतः मेजर अटैक के बाद हार्ट की पम्पिंग कम होने के कारण होता है क्योंकि पम्पिंग कम होने की वजह से दिमाग तक ब्लड पर्याप्त मात्रा में नहीं पहुंच पाता, इससे मरीज को चक्कर या बेहोशी आने लगती है। ऐसे में ज़रूरत है कि अपने हृदय रोग विशेषज्ञ से मिलकर इसकी जांच कराकर कारण का पता करें व उचित उपचार कराएं।
 
7. पसीने के साथ बेचैनी : अचानक घबराहट व बेचैनी महसूस होना व ढेर सारा पसीना आना भी हार्ट अटैक का एक प्रमुख लक्षण व पूर्वानुमान है। ऐसे ज़्यादातर रोगियों की शिकायत होती है कि उन्हें अचानक घबराहट हुई व इतना पसीना आया कि पूरे कपड़े भीग गए। कुछ तो यहां तक कहते हैं कि इतना पसीना आया था कि कपड़ों को निचोड़ने पर 1-2 गिलास पानी भर जाता है। यह लक्षण भी हार्ट अटैक का एक साइलेंट लक्षण है।
 
8. जीवन को लेकर निराशा : यह एहसास भी हार्ट अटैक की तरफ इशारा करता है। इसमें मरीज को इतनी ज़्यादा घबराहट या बेचैनी महसूस होती है कि उसे लगने लगता है कि अब जीवन का बच पाना मुश्किल है। इस तरह के लक्षण को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें।

9. मूड बदलना : बिना किसी कारण के मूड का तेजी से बदलना जैसे कि अचानक बहुत दुखी या फिर प्रसन्नता महसूस करना भी हार्ट अटैक का एक प्रारंभिक लक्षण हो सकता है, जो कि सामान्यतः हार्ट की पम्पिंग कम होने व ब्रेन को रक्त की सप्लाई कम होने के कारण होता है।
 
10. धड़कन बढ़ना : अचानक बहुत तेजी से धड़कन का बढ़ जाना व साथ में सीने में दर्द उठना भी हार्ट अटैक का एक पूर्वानुमान हो सकता है। ऐसी समस्या होने पर भी चिकित्सक से तुरंत परामर्श करें।
Edited by: Vrijendra Singh Jhala
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

वेबदुनिया ने टटोला मतदाताओं का मन, क्या कहते हैं गुजरात के वोटर्स?