बसपा को झटका दे पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दयाराम हुए सपा में शामिल

अवनीश कुमार

शुक्रवार, 20 सितम्बर 2019 (18:55 IST)
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में उपचुनाव की सुगबुगाहट अब साफ तौर पर देखी जा सकती है, जिसके चलते सभी पार्टियां प्रदेश में अपने-अपने संगठन को मजबूत करने में जुटी हैं। शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बसपा को झटका देते हुए उसके कद्दावर नेता व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दयाराम पाल एवं उनके तीन पुत्रों को समाजवादी पार्टी में शामिल करवाया। 
 
अखिलेश यादव ने विजय बहादुर पाल के साथ उनके सैकड़ों समर्थकों को समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। बलिया के बड़े नेता मिठाई लाल पाल भी इस मौके पर सपा में शामिल हुए। सदस्यता ग्रहण करने के ठीक बाद बसपा से सपा नेता हुए दयाराम पाल ने बसपा पर हमला बोलते हुए कहा कि अब बाबा साहेब और कांशीराम के मिशन से पार्टी भटक गई है। 
 
पाल ने कहा कि बसपा में ना तो कोई नीति रह गई है और ना ही कार्यकर्ताओं का सम्मान। इसलिए अब वहां रहने का कोई मतलब नहीं है। सभी नेताओं का स्वागत करते हुए सपा मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि इन नेताओं के आने से पार्टी को मजबूती मिली है और हम लोग 2022 में भाजपा के खिलाफ मजबूती से लड़ेंगे।
 
उन्होंने कहा कि सपा के साथ जमीनी नेता जुड़ रहा है, जो गरीब मजबूर के दर्द को समझता है, यही कारण है की हम कह रहे हैं कि अब भाजपा की सरकार की उलटी गिनती शुरू हो गई है। यूपी सरकार तो झूठ की नींव पर खड़ी है। यह भी सच है कि झूठ अधिक दिन तक नहीं चल सकता है।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख विश्व पुरुष मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने पहले भारतीय बने अमित पंघाल