Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

UP : उत्तरप्रदेश में लागू होने वाला है Common Civil Code, खत्म हो जाएगा मुस्लिम पर्सनल लॉ : सपा सांसद

हमें फॉलो करें webdunia

हिमा अग्रवाल

रविवार, 11 सितम्बर 2022 (23:44 IST)
मुरादाबाद। सपा सांसद डॉ. एसटी हसन ने अपने संसदीय क्षेत्र तहसील कांठ में भ्रमण के दौरान मुसलमानों को कॉमन सिविल कोड का खौफ दिखाकर डराते नजर आए। उन्होंने मुसलमानों को साधते हुए कहाकि बहुत जल्दी ही कॉमन सिविल कोड आने वाला है, इसके आते ही तुम्हारे सारे अधिकार खत्म हो जाएंगे। मुस्लिम इदारे मिट जाएंगे, मुस्लिम पर्सनल लॉ खत्म हो जाएगा। इसलिए मैं अपनी कौम के लिए बेहद फिक्रमंद हूं, 2019 के बाद पार्लियामेंट में हमने जो हालात देखे हैं, उससे मेरी रातों की नींद उड़ी हुई है। कुछ समय पहले तीन तलाक और CAA आया हमने उसका विरोध किया और अब NRC आने वाला है।
 
 मुरादाबाद से सपा सांसद डॉ. एसटी हसन ने समान नागरिक संहिता कानून को लेकर मुस्लिमों से कहा कि इसमें आपसे भारतीय होने का प्रमाण मांगा जाएगा तो आप अपने डॉकोमेंट्स दिखाएं, दादा-परदादा के प्रमाण दिखा पाओगे क्या? यदि दिखा नही पाए तो कोई आपको बांग्लादेशी कहेगा, तो कोई पाकिस्तान से आया कहते हुए भारत से बाहर का जाने का रास्ता दिखाएगा। NRC का कानून कितना खतरनाक है, यह मेरे भाई लोग नही समझ पा रहे हैं। 
 
अब मुझे यह डर भी सता रहा है कि सरकार जल्दी ही कॉमन सिविल कोड लाने वाली है। यदि यह कानून आया तो मुसलमानों के अधिकार छिन जाएंगे। सिविल कोड का मतलब इस्लामिक कानून सब खत्म, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड खत्म हो जाएगा, आज जो कुराने पाक की रूह से बच्चों को जो तरका बांटते हैं खत्म हो जाएगा। उन्होंने कहा कि जब कश्मीर से 370 हटाई गई थी हमने उसकै विरोध किया, लेकिन हमारी एक भी बात न सुनी गई, कोई यह बताएं यदि जम्म- कश्मीर से 370 हट सकती है तो अरुणाचल से 371 क्यों नहीं हटाई गई, इसका जबाव कोई नहीं देता है। 
 
यदि सिविल कॉमन कोड लागू हो गया तो हम अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं दे पाएंगे। मुसलमान इस्लाम से दूर हो जाएगा और गुनाह के रास्ते पर चल पड़ेगा जिससे अल्लाह की रहम नहीं बरसेगी। आजकल मदरसों पर ऐसी आफत आई हुई है कि बुलडोजर का खतरा मंडरा रहा है। असम में तो बुलडोजर चल भी रहा है। अगर ये निजाम खत्म हो गया तो हम इस्लाम से दूर हो जाएंगे। अपने बच्चों क़ो गुनाह के रास्ते पर चलने से बचाने के लिए अच्छी तालीम देनी होगी, इसलिए मुसलमानों को अपने आने वाले मुस्तकबिल से बचना होगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सलमान खान की भी लॉरेंस बिश्नोई ने करवाई थी रेकी, सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पकड़े गए शूटर का खुलासा