Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

राज्यपाल से मिले केंद्रीय मंत्री राधा मोहनसिंह, यूपी में मंत्रिमंडल विस्तार पर कही बड़ी बात

webdunia
रविवार, 6 जून 2021 (14:25 IST)
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार और भाजपा में फेरबदल की अटकलों के बीच पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के प्रभारी राधा मोहन सिंह ने रविवार को यहां राजभवन में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात की। मुलाकात के बाद मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में पूछे जाने पर उन्होने इसका जवाब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि और कहा कि मंत्रिमंडल में कुछ पद रिक्त है और उचित समय पर योगी इस पर फैसला ले सकते हैं।
 
प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले दिल्ली और लखनऊ में भाजपा आलाकमान के नेताओं की बैठकों से सियासी अटकलों का बाजार गर्म है। हाल ही में पार्टी महासचिव संगठन बीएल संतोष तीन दिनों के लिए लखनऊ आए थे और उन्होने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा के अलावा कुछ मंत्रियों और प्रदेश पदाधिकारियों से अलग अलग मुलाकात की थी। बाद में डॉ. राधा मोहन सिंह ने दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की थी जिसको लेकर प्रदेश में राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ी हुई हैं।
 
डॉ. सिंह ने हालांकि राज्यपाल से हुई मुलाकात को शिष्टाचार भेंट करार दिया। उन्होने कहा कि यह एक शिष्टाचार भेंट थी। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार और संगठन दोनों ही बेहतर कार्य कर रहे हैं। प्रदेश प्रभारी ने बाद में विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित से भी मुलाकात की और इसे भी शिष्टाचार भेंट बताया।
 
डॉ. सिंह ने कहा कि कुछ लोग अपने दिमाग में खयालों की खेती कर रहे हैं, इसका कोई इलाज नहीं है। सबको पता है कि भाजपा संगठन और सरकार दोनों अच्छा काम कर रहे हैं और लोगों के बीच खासे लोकप्रिय है और जहां तक मंत्रिमंडल विस्तार का प्रश्न है तो मंत्रिमंडल में खाली पदों को भरने की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री की है और समय आने पर वह उचित फैसला लेने में सक्षम है।
 
उन्होंने कहा कि राज्यपाल मेरी पुरानी परिचित हैं और यहां आने के छह माह बाद तक उनसे नहीं मिल पाया था। आज मौका मिला तो औपचारिकता के तहत उनसे मिलने गया था। (वार्ता) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कर्नाटक : मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ने को तैयार हैं बीएस येदियुरप्पा