11 फरवरी : क्यों मनाते हैं प्रॉमिस डे...

प्रॉमिस डे यानि वेलेंटा‍इन सप्ताह का पांचवा दिन। कसमें और वादे तो प्यार के रिश्ते की पुरानी पहचान रहे हैं, इनके बगैर प्रेम का यह सप्ताह कैसे पूरा हो सकता है। इसलिए प्यार का पांचवे दिन यानि 11 फरवरी को हर साल प्रॉमिस डे भी मना लिया जाता है, ताकि प्रेम को प्रदर्श‍ित करता वेलेंटाइन सप्ताह अधूरा न रह जाए।



 
गुलाब के फूल से महकता वेलेंटाइन वीक प्रेम का प्रस्ताव देते हुए चॉकलेट और टेडी से आगे बढ़ता है और जिंदगीभर की मोहब्बत का वादा देकर वेलेंटाइन वीक को गहराई देते हैं। हांलांकि यह जरूरी नहीं कि वादा सिर्फ मोहब्बत का हो, वादा कोई भी हो सकता है जो आपकी मोहब्बत और रिश्ते को और खूबसूरत बनाए।
 
बहुत से युवा इस दिन अपने दिलबर से कोई वादा करते हुए अपने प्यार की शुरुआत करते हैं। ऐसा नहीं है कि यह वीक चाहने वालों के लिए ही बना है। यार-दोस्तों में आपस में भी इस वीक को लेकर बहुत उत्साह रहता है। युवा अपने दोस्तों के लिए भी उपहार आदि खरीद कर अपनी दोस्ती पक्की करते हैं और प्रॉमिस डे पर उन्हें कोई ऐसा वादा करते हैं जो वह हमेशा निभा सकें। रिश्ता कोई भी हो पक्का वादा ही उसे मजबूत बनाता है।
 
युवा इस दिन को खासी अहमियत देते हैं और अपने किए हुए वादे को दिल से निभाने की कोशिश भी करते हैं। लेकिन किसी की कोशिश कामयाब होती है तो किसी की नहीं। खैर यह तो आप पर ही निर्भर करता है कि आप कितने दिल से अपने प्रॉमिस को निभाते हैं।
 
अगर आप किसी अपने को कभी नहीं खोना चाहते या किसी अजनबी से जीवनभर का रिश्ता कायम करना चाहते हैं तो यह दिन आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। इस दिन आप अपने खास से प्रॉमिस कीजिए कि आप उनका साथ हमेशा के लिए चाहते हैं और हर हाल में आप यह रिश्ता जीवन भर निभाएंगे, लेकिन याद रहे कि यह सिर्फ एक कोरा प्रॉमिस न हो बल्कि आप इस पर तहे दिल से अमल करें और जीवनभर इस रिश्ते का साथ बनाएं रखें।
 
तो ‍‍फिर देर किस बात की, प्रॉमिस डे पर इस बात को ध्यान में रखते हुए प्रॉमिस रूपी ग्लू से जोड़ लीजिए अपने उस खास से जीवनभर का एक 'अटूट' रिश्ता। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख आप कितने घंटे सोते हैं? जानें कितनी नींद है जरूरी...