Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बसंत पंचमी पर मां सरस्वती की पूजा के खास मुहूर्त और शुभ संयोग

हमें फॉलो करें webdunia
Basant Panchami Subha Muhurt 2022
Vasant panchami 2022: 5 फरवरी 2022 शनिवार को बसंत पंचमी पर्व मनाया जा रहा है। इस दिन मां सरस्वती (Goddess Saraswati) की आराधना के साथ ही उनकी पूजा की जाएगी। आओ जानते हैं पूजा के शुभ मुर्हूत (puja ke shubh muhurt sanyog) के साथ ही शुभ संयोग।
 
 
शुभ योग : इस दिन दो शुभ योग बन रहे हैं। 5 फरवरी को मकर राशि में सूर्य और बुध के रहने से बुधादित्य योग बन रहा है। वहीं सभी ग्रह 4 राशियों में विद्यमान रहेंगे। इस कारण केदार योग का भी निर्माण हो रहा है। 4 फरवरी को 7:10 बजे से 5 फरवरी को शाम 5:40 तक सिद्धयोग रहेगा। फिर 5 फरवरी को शाम 5.41 बजे से अगले दिन 6 फरवरी को शाम 4:52 बजे तक साध्य योग रहेगा। इसके अलावा इस दिन दिन रवि योग का सुन्दर संयोग भी बन रहा है। ऐसे में ये त्रिवेणी योग है।
 
 
पंचमी तिथि:पंचमी तिथि 5 फरवरी को प्रातः 3.49 बजे से रविवार के दिन प्रातः 3.49 बजे तक रहेगी। 
 
शुभ मुहूर्त : सरस्वती पूजा का शुभ मुहूर्त 5 फरवरी की सुबह 6 बजकर 43 मिनट से अगले दिन सुबह 6 बजकर 43 मिनट तक है।
 
पूजा मुहूर्त : 07:07:19 बजे से दोपहर 12:35:19 तक।
 
 
अभिजीत मुहूर्त : सुबह 11:50 से दोपहर 12:34 तक।
 
अमृत काल : सुबह : 11:19 से दोपहर 12:55 तक।
 
श्रेष्ठ संयोग : उत्तराभाद्रपद के दौरान सिद्ध योग, साध्य योग और रवि योग।
webdunia

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

वसंत पंचमी : विद्यारंभ संस्कार क्या है? कब किया जाता है, क्यों है महत्व, जानिए खास बातें