Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्या आपको भी आया है Income Tax रिफंड का ऐसा SMS, तो लिंक पर क्लिक करने से पहले जान लें इसकी सच्चाई

webdunia
शुक्रवार, 8 नवंबर 2019 (14:36 IST)
कई लोगों को इन दिनों आयकर विभाग की तरफ से इनकम टैक्स रिफंड क्लेम करने का एसएमएस आ रहा है, जिसमें एक लिंक भी है। दावा किया जा रहा है कि इस लिंक के जरिये आप अपने अनक्लेम्ड टैक्स रिफंड के लिए रिक्वेस्ट डाल सकते हैं।
 
क्या है वायरल-
 
कई लोगों ने इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को ट्विटर पर टैग कर इस बात की जानकारी दी है कि उन्हें अपने फोन पर एक टेक्स्ट मैसेज आ रहा है, जिसमें टैक्स रिफंड रिक्वेस्ट सबमिट करने के लिए एक लिंक पर क्लिक करने के लिए कहा जाता है। ये मैसेज उन्हें ‘QP-ITEDPT’, ‘QP-TAXDEP’ के नाम से आ रहे हैं।


 
क्या है सच-
 
यूजर्स के ट्वीट का जवाब देते हुए इनकम टैक्स डिपोर्टमेंट ने कहा है कि यह एक फिशिंग मैसेज है। साथ ही, डिपोर्टमेंट ने सभी यूजर्स से निवेदन किया कि इस तरह की लिंक पर क्लिक न करें, जो रिफंड का दावा करती हों।


देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने भी इनकम टैक्स रिफंड के नाम पर हो रही बैंकिंग धोखाधड़ी और साइबर ठगी रोकने के लिए अलर्ट जारी किया है।
 
एसबीआई ने ग्राहकों से कहा है कि वो किसी भी तरह की निजी जानकारी को शेयर ना करें। बैंक ने कहा है कि अगर आपके पास भी आयकर विभाग की तरफ से रिफंड क्लेम करने का कोई मैसेज आया है, तो फिर यह एक तरह का फ्रॉड है। ऐसे मैसेज के बारे में तुरंत पुलिस और साइबर क्राइम सेल को सूचित करें।

बता दें कि आयकर विभाग की ओर से जो ईमेल/SMS आते हैं वह ऑटो जनरेटेड होते हैं। उसमें उपभोक्ता को जवाब देने की जरूरत और विकल्प भी नहीं होता है। ऐसे ईमेल/SMS का जवाब देने या ईमेल/SMS के लिंक पर क्लिक करने से परहेज करें। साथ ही उसके साथ कोई फाइल है तो उसे भी खोलने से बचें।
 
वेबदुनिया की पड़ताल में पाया गया है कि इनकम टैक्स रिफंड क्लेम वाले मैसेज फेक है। इसमें अपनी निजी जानकारी देने पर आप जालसाजी का शिकार हो सकते हैं।

webdunia

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

राममंदिर पर फैसले से पहले अयोध्या में विराजे भगवान श्रीराम !, पढ़ें खास खबर