क्या वाकई मुस्लिम लड़कियों ने हिन्दू लड़कों से विवाह के लिए मन्नत मांगी और देवघर के शिव मंदिर में चढ़ाया जल...

गुरुवार, 25 जुलाई 2019 (15:50 IST)
सोशल मीडिया पर इन दिनों कावड़ लिए बुर्का पहनी महिलाओं का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि हलाला और तलाक से बचने के लिए हिन्दू लड़कों से विवाह के लिए मन्नत मांगते हुए मुस्लिम महिलाओं ने झारखंड के देवघर स्थित प्राचीन शिव मंदिर में जल चढ़ाया। इसी दावे के साथ फेसबुक-ट्विटर पर पिछले 48 घंटे में यह वीडियो सैकड़ों बार शेयर किया गया है और सात लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है।
 
वायरल वीडियो में क्या है?
 
वीडियो में कुछ बुर्का पहनीं महिलाएं कंधे पर कांवड़ लिए एक काफिले में शामिल होती दिख रही हैं। इस काफिले में दिख रहीं अन्य महिलाओं भगवा वस्त्र पहने हुए हैं।


 
वायरल वीडियो का सच क्या है?
 
वायरल वीडियो में न्यूज चैनल न्यूज18 का लोगो लगा हआ है, तो हमने सबसे पहले ‘news18, मुस्लिम महिलाएं, कांवड़’ कीवर्ड से इंटरनेट पर सर्च किया तो हमें वह वीडियो न्यूज18 के यूट्यूब चैनल पर मिल ही गया। इस वीडियो को 14 अगस्त 2016 को पब्लिश करते हुए न्यूज चैनल ने लिखा था- ‘कांवड़ लेकर निकली मुस्लिम महिलाएं, पेश की एकता की मिसाल’। साथ ही, वीडियो के डिस्क्रिप्शन से पता चला कि यह वीडियो झारखंड का नहीं बल्कि इंदौर का है।
 
दरअसल, इंदौर में साल 2016 में एकता की मिसाल पेश करते हुए सांझा कांवड़ यात्रा निकाली गई थी। इस कांवड़ यात्रा में हिंदू पुरुष-महिलाओं के साथ बुर्का पहने मुस्लिम महिलाएं भी शामिल हुई थीं। इस यात्रा का आयोजन ‘साझा संस्कृति मंच’ नाम की एक संस्था ने किया था। बता दें कि साल 2015 में भी इसी प्रकार का आयोजन हुआ था।
 
वेबदुनिया की पड़ताल में पाया गया है कि कांवड़ वाली मुस्लिम महिलाओं की तस्‍वीर देवघर नहीं, बल्कि इंदौर की है और इस खास कांवड़ यात्रा का आयोजन हिन्दू-मुस्लिम एकता का संदेश देने के लिए किया गया था।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मानसिक रूप से कमजोर युवक को भीड़ ने पीटा, वायरल हुआ वीडियो