Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्या एस्पिरिन, नींबू का रस और शहद के मिश्रण से हो सकता है कोरोना का इलाज… जानिए सच...

webdunia
गुरुवार, 7 मई 2020 (13:02 IST)
सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस के इलाज के कई दावे वायरल होते रहते हैं। ऐसा ही एक दावा है कि इटली ने COVID-19 के लिए एक घरेलू उपाय ढूंढ लिया है, जो एस्पिरिन, नींबू का रस और शहद का मिश्रण है।

क्या है वायरल-

वायरल पोस्ट में लिखा गया है- ‘इटली ने कोरोना वायरस के लिए घरेलू उपाय ढूंढा है, जिसमें 500 ग्राम एस्पिरिन को नींबू के रस में मिलाए फिर उसे शहद के साथ उबालें। पोस्ट में इस मिश्रण को गर्म ही पीने की सलाह दी गई है।

क्या है सच-

इटली की मिनिस्ट्री ऑफर हेल्थ ने जो COVID-19 गाइडेंस जारी की है, उसमें वायरल दावे का जिक्र नहीं किया गया है। इसमें लिखा है कि जब तक आपका डॉक्टर न कहें तब तक एंटीवायरल ड्रग्स और एंटीबायोटिक न लें। बीमार व्यक्ति को आराम करना चाहिए। साथ ही काफी सारा लिक्विड पीना, पौष्टिक भोजना खाना और सर्जिकल मास्क पहनना चाहिए, जिसे हर दिन बदला जाना चाहिए। अगर व्यक्ति मास्क को बर्दाश्त नहीं कर सकता है तो उसे सख्त रेस्पिरेटरी हाइजीन अपनानी चाहिए। खांसी या छींक आने पर डिस्पोजेबल पेपर टिश्यू या रूमाल से अपने मुंह और नाक को ढक लें और इसे तुरंत फेंक दें। अपने हाथों को साबुन और पानी या हाइड्रोअल्कोहोलिक सॉल्यूशन से धोना चाहिए।

WHO के मुताबिक, ‘अभी तक, कोरोना वायरस के लिए कोई टीका और कोई विशिष्ट एंटीवायरल दवाएं नहीं हैं। हालांकि, अगर किसी व्यक्ति की तबीयत ज्यादा खराब हो तो उसे अस्पताल में एडमिट होना चाहिए, जिससे उसे सभी जरूरी उपचार मिल सकें। इससे ज्यादातर मरीज ठीक हो जाते हैं। इस वायरस के लिए संभावित टीके और कुछ विशिष्ट दवाओं की जांच चल रही है। इन्हें क्लीनिकल ट्रायल्स द्वारा जांचा जा रहा है।’

वेबदुनिया की पड़ताल में पाया गया है कि एस्पिरिन, नींबू का रस और शहद के मिश्रण से कोरोना वायरस का इलाज करने का वायरल दावा फेक है।

webdunia


Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कोरोना संक्रमित महिला के साथ अभद्र व्यवहार, अस्पताल के दो कर्मी गिरफ्तार