Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

शुक्र तुला राशि में, 12 राशियों पर क्या होगा असर, जानिए किसे देगा लाभ...

webdunia
webdunia

पं. अशोक पँवार 'मयंक'

शुक्र अपनी नीच राशि कन्या को त्यागकर 1-2 सितंबर की मध्यरात्रि को अपनी स्वराशि तुला में प्रवेश करेगा। तुला का शुक्र स्वराशि का होने से किसे देगा लाभ, आइए जानते हैं-
 
मेष राशि वालों के लिए द्वितीयेश होकर सप्तम भाव से गोचर भ्रमण करने से दांपत्य सुख में वृद्धि होगी। दैनिक व्यवसाय में लाभ मिलेगा। वाक् चातुर्य से आपके कार्य सफल होंगे। थोड़ा स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।
 
वृषभ राशि वालों के लिए लग्नेश होकर षष्ठ भाव से भ्रमण करने से थोड़ा स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। कर्ज की स्थिति से राहत मिलेगी। शत्रु वर्ग से राहत पाएंगे। खर्च की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।
 
मिथुन राशि वालों के लिए द्वादशेश होकर पंचम भाव से भ्रमण करने से यात्रा के योग बन सकते हैं। विद्यार्थी वर्ग के लिए समय उत्तम है। प्रेम के योग बन सकते हैं। मनोरंजन के साधनों में वृद्धि होगी। कला से जुड़े लोग लाभान्वित होंगे।
 
कर्क राशि वालों के लिए एकादशेश होकर चतुर्थ से भ्रमण करने से पारिवारिक मामलों में खर्च होगा। सुखद स्थिति रहेगी। आय जनता के कार्यों से होगी। शुभ कार्य होकर संपत्ति के मामलों में अनुकूल स्थिति पाएंगे।
 
सिंह राशि वालों के लिए दशमेश होकर तृतीय भाव से भ्रमण करने से साझेदारी के कार्य से लाभ होगा। संचार माध्यम से शुभ समाचार मिलेगा। व्यापार-व्यवसाय में उन्नति होगी। नौकरीपेशा भी लाभान्वित होंगे।
 
कन्या राशि वालों के लिए नवमेश होकर द्वितीय भाव से भ्रमण करने से भाग्योन्नति में वृद्धि होकर धन की बचत के योग बनेंगे। कुटुम्ब का सहयोग मिलेगा। वाणी में मिठास होगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से समय उत्तम रहेगा।
 
तुला राशि वालों के लिए षष्ठेश होकर लग्न से भ्रमण करने से प्रभाव में वृद्धि होगी। सोचे कार्य बनेंगे। गायन से जुड़े व्यक्तियों के लिए समय सुखद होकर आशातीत सफलता का रहेगा। सौन्दर्य के प्रति रुझान बढ़ेगा।
 
वृश्चिक राशि वालों के लिए सप्तमेश होकर द्वादश से भ्रमण करने से विदेश यात्रा के योग बनेंगे। बाहरी संबंधों में सुधार होकर लाभ होगा। नवीन कार्ययोजना बनेगी। स्त्री पक्ष से लाभ होगा। दैनिक व्यवसाय में लाभ के योग बनेंगे।
 
धनु राशि वालों के लिए षष्टेश होकर एकादशेश से भ्रमण करने से आय के साधनों में वृद्धि होगी, वहीं भाई-बहनों का सहयोग मिलेगा। शत्रु पक्ष से राहत मिलेगी। स्वास्थ्य ठीक रहेगा। कर्ज की स्थिति में सुधार होगा।
 
मकर राशि वालों के लिए पंचमेश होकर दशम भाव से भ्रमण करने से व्यापार-व्यवसाय में उन्नति होकर लाभजनक स्थिति रहेगी। नौकरीपेशा भी सुखद स्थिति के साथ लाभान्वित होंगे। संतान पक्ष से सुखद अनुभव होगा।
 
कुंभ राशि वालों के लिए चतुर्थेश होकर नवम भाव से भ्रमण करने से भाग्योन्नति होगी। धर्म-कर्म के मामलों में खर्च होगा। पारिवारिक सुख-शांति रहेगी। घर-परिवार में शुभ कार्य होंगे। पिता से सहयोग के साथ लाभ भी होगा।
 
मीन राशि वालों के लिए तृतीयेश होकर अष्टम भाव से भ्रमण करने से पराक्रम द्वारा लाभ के योग बनेंगे लेकिन खर्च अधिक होगा। संचार माध्यम से सुखद समाचार सुनेंगे। सौन्दर्य के प्रति रुझान बढ़ेगा। स्वास्थ्य ठीक रहेगा।
 
उपाय : शुक्र की शुभता पाने हेतु 5 कैरेट से ऊपर ओपल चांदी में पहनें। स्नान के जल में 1 चम्मच दही डालकर नहाएं। 5 साल से कम उम्र की कन्याओं को शुक्रवार के दिन खीर खिलाएं व उनके चरण स्पर्श करें। स्त्री का सम्मान करें। इस प्रकार शुक्र का शुभ प्रभाव मिलेगा।


Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सिर्फ 3 शुक्रवार पढ़ें और मालामाल हो जाएं, जानिए धन प्राप्ति का मंत्र और विधि...