Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Jupiter transit in Aquarius: बृहस्पति ने बदला अपना घर,जानें क्या होगा असर?

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
webdunia

आचार्य राजेश कुमार

बृहस्पति ग्रह मकर से कुंभ राशि में प्रवेश कर गया है। 12 साल बाद ये ग्रह कुंभ राशि में रहेगा। साल 2021 में गुरु का ये पहला राशि परिवर्तन है। अभी तक देवताओं के गुरु यानी बृहस्पति अपनी नीच राशि में शनि के साथ थे और अब शनि की ही राशि कुंभ में आ गए हैं। इस राशि में ये 13 सितंबर तक रहेंगे। इसी बीच यह ग्रह 20 जून को वक्री यानी टेढ़ी चाल से चलेगा। फिर ऐसे ही चलते हुए 14 सितंबर को वापस मकर राशि में आ जाएगा। इसके बाद 18 अक्टूबर को सीधी चाल से चलेगा और 20 नवंबर को फिर कुंभ राशि में आ जाएगा।
 
बृहस्पति के कारण राजनीतिक उथल-पुथल
 
शनि की राशि में गुरु के आ जाने से अच्छे लोगों की परेशानी भी बढ़ सकती है। देश के पूर्वी राज्यों में उपद्रव होने की आशंका है। शिक्षा के क्षेत्र में अनियमितता रहेगी। प्रशासन और मंत्रियों के तालमेल में कमी आ सकती है। धार्मिक गतिविधियां नहीं हो पाएंगी। राजनीति में उथल-पुथल बनी रहेगी। षड्यंत्र भी ज्यादा बनेंगे। अंतरराष्ट्रीय व्यापार में उत्साह नहीं रहेगा। व्यापारियों के लिए चिंता का समय रहेगा। धार्मिक विवाद होने की आशंका रहेगी। मांगलिक कामों में भी निराशा का समय रहेगा। गुरु का राशि परिवर्तन अपने साथ कई राशियों के लिए धनलाभ और विद्या लाभ लेकर आएगा।
 
गुरु राशि परिवर्तन अप्रैल 2021
 
मेष- व्यवसाय में किसी नए प्रोजेक्ट पर कार्य प्रारंभ करेंगे। हेल्थ में सुधार आते रहेंगे। जॉब में सकारात्मक परिवर्तन का प्रस्ताव स्वीकार करना चाहिए। शिक्षा में सफलता मिलेगी। नारंगी व पीला रंग शुभ है। प्रत्येक गुरुवार को अन्न का दान करें।
 
वृषभ- जॉब में आपकी स्थिति अब बहुत ही बेहतर होगी। आप व्यवसाय को और बेहतर करेंगे तथा कोई बड़ी सफलता मिलने की उम्मीद है। कोई बड़ा धार्मिक अनुष्ठान करेंगे। छात्रों के करियर को विस्तार मिलेगा। प्रत्येक गुरुवार को चने की दाल का दान करें। सफेद रंग शुभ है।
 
मिथुन- कुंभ में गुरु का गोचर बहुत ही शुभ है। जॉब व व्यवसाय में लाभ है। धन के लेन-देन के प्रति कोई भी लापरवाही न करें। प्रतिदिन अन्न का दान बहुत ही शुभ है। आसमानी व सफेद रंग शुभ है। गाय को प्रत्येक गुरुवार को भोजन कराएं।
 
कर्क- जॉब से संबद्ध जातकों के लिए सफलता का समय है। मकान या वाहन क्रय कर सकते हैं। जॉब में मित्र आपकी मदद करेंगे। सफेद व पीला रंग शुभ है। प्रतिदिन श्री विष्णुसहस्रनाम का पाठ करें। चने की दाल का दान करते रहें।
 
सिंह- गुरु का कुंभ गोचर शुभ है। जॉब में प्रोमोशन व व्यवसाय में सफलता का समय है। राजनीतिज्ञ सफल रहेंगे। रुके धन की प्राप्ति हो सकती है। वाहन प्रयोग के प्रति सचेत रहें। नारंगी रंग शुभ है। प्रत्येक गुरुवार को गाय को भोजन देते रहें। भगवान विष्णु की उपासना करते रहें।
 
कन्या- गुरु का यह परिवर्तन आपके लिए बहुत ही टर्निंग प्वॉइंट लेकर आया है। जॉब संबंधित कई महत्वपूर्ण व बड़े निर्णय इस समय लेंगे। पीला रंग शुभ है। प्रतिदिन श्री विष्णुसहस्रनाम का पाठ करें। छात्रों के लिए बहुत ही श्रेयस्कर समय है। विष्णुजी की उपासना करते रहें।
 
तुला- यह समय जॉब के लिए बहुत ही शुभ है। यह गोचर छात्रों के लिए सफलता की प्राप्ति का है। गुरु व्यवसाय में आपकी रुकी योजनाओं को शुरू करेंगे। धार्मिक अनुष्ठान होंगे। नीला रंग शुभ है।
 
वृश्चिक- गुरु, गृह निर्माण संबंधी कई रुके कार्य पूर्ण करेंगे। व्यवसाय में रुके धन का आगमन होगा। जॉब में प्रगति के मार्ग बनेंगे। स्वास्थ्य सुख में भी प्रगति है। पीला रंग शुभ है।
 
धनु- छात्र सफल रहेंगे। व्यवसाय में प्रगति करेंगे। हर गुरुवार अन्नदान करते रहें। राजनीतिज्ञ अपने करियर में प्रगति को लेकर प्रसन्न रहेंगे। स्वास्थ्य को लेकर खुश रहेंगे।
 
मकर- गुरु का कुंभ गोचर जॉब व व्यवसाय में बहुत कार्य करेगा। जॉब में विशेष सफलता मिलेगी। जॉब संबंधित किसी निर्णय को लेकर प्रसन्न रहेंगे। हरा व पीला रंग शुभ है। अन्न का दान करते रहें।
 
कुंभ- गुरु इस राशि में उपस्थित होकर आपको खुशहाली देंगे। छात्रों को करियर में आशातीत सफलता मिलेगी। गृह निर्माण संबंधी रुकी योजनाएं प्रारंभ होंगी। स्वास्थ्य सुख की बाधाएं दूर होंगी। पीला रंग शुभ है। प्रत्येक गुरुवार को गुरु के बीज मंत्र का जप करें व चने की दाल का दान करें।
 
मीन- व्यवसाय संबंधित कोई बड़ा कार्य संपन्न होगा। शिक्षा में आपके लिए उपलब्धियों का समय है। गुरु का यह गोचर टेक्निकल व मैनेजमेंट फील्ड के छात्रों को कोई बड़ा अवसर दे सकता है। प्रत्येक गुरुवार को अन्न का दान करें। पीला व सफेद रंग शुभ है।
गुरु का कुंभ राशि में प्रवेश,12 राशियों पर होगा असर
गुरु का कुंभ राशि में प्रवेश, जानिए किसे मिलेगी शादी की खुशी, किसे होगी देर

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
विक्रम संवत से पहले भारत में कौनसा संवत था प्रचलित?