Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

इन 5 राशियों पर प्रसन्न रहती हैं देवी लक्ष्मी, जानिए कौन सी हैं वे राशियां

webdunia
गुरुवार, 25 नवंबर 2021 (11:52 IST)
Blessings of Maa Lakshmi: ज्योतिष मान्यता के अनुसार 12 राशियों में से 5 राशियां ऐसी होती है जिन पर मां लक्ष्मी और शुक्रदेव की कृपा बनी रहती है, बशर्ते की वे किसी बुरे कर्म में लिप्त नहीं रहते, साफ-सफाई का ध्यान रखते और महिलाओं का सम्मान करते हैं। ऐसे में इन 5 राशियों ( zodiac signs astrology ) के जातक खूब धन–दौलत, मान-सम्मान और पद-प्रतिष्ठा प्राप्त करते हैं।
 
 
1. वृषभ : वृषभ राशि के स्वामी शुक्र हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इन राशि वालों पर हमेशा मां लक्ष्मी की कृपा रहती है। इन्हें भाग्य का हमेशा साथ मिलता है। वृषभ राशि वालों को कम प्रयासों में ही सफलता मिलने के योग भी बनते हैं। इन्हें कभी आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ता है।  मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती है।
 
2. कर्क : कर्क राशि वालों का राशि स्वामी चंद्र है। इन पर भी मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। इनके जीवन में भी सुख-सुविधाओं, धन-समृद्धि की कमी नहीं रहती है।
 
3. सिंह : सिंह राशि वाला का राशि स्वामी सूर्य होता है। इन्हें भी किसी भी प्रकार की आर्थिक परेशानी नहीं आती है। यदि ये अपने क्रोध को काबू में रखें तो जीवन में हर तरह की सुख-सुविधाओं का लाभ उठाते हैं और ये मेहनती होने के साथ ही सफल भी होते हैं। 
 
4. तुला : तुला राषि के स्वामी भी शुक्र है। शुक्रवार माता लक्ष्मी का वार है। जिसकी कुंडली में शुक्र ग्रह मजबूत रहता है उसको किसी भी प्रकार से धन समृद्धि और सुख शांति की कमी नहीं रहती है। उन्हें भाग्य का हमेशा साथ मिलता रहता है। मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती है।
 
5. वृश्चिक : वृश्चिक राशि वाले जातक भी आर्थिक रूप से मजबूत होते हैं। ये भी किस्मत के धनी होते हैं, परंतु कई बार ये अपने कर्मों से ही अपनी किस्मत को खराब कर लेते हैं। इनमें मंगल का प्रभाव होने के कारण ये जिद्दी होते हैं। यदि ये विनम्र बने रहे तो माता लक्ष्मी की कृपा से जीवन में किसी भी प्रकार का दु:ख नहीं होता है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मार्गशीर्ष मास का प्रथम गुरुवार क्यों है खास, जानिए लक्ष्मी पूजा का महत्व