• Alliance
  • Lead/Won
  • Change

गुलाब का एक फूल बदल सकता है जीवन की दिशा, जानिए 10 रोचक टोटके

गुलाब के फूलों का रस चेहरे पर मलने से चेहरे पर ठंडी-ठंडी ताजगी बनी रहती है। आंखों की जलन और खुजली दूर करने के लिए गुलाब जल का प्रयोग किया जाता है। गुलाब के घर में महकते रहने से किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होती। मन पवित्र और शांत बना रहता है। इससे जीवन में उत्साह बना रहता है।
 
हम आपके लिए लाए हैं सुंगधित गुलाब के फूल के कुछ ऐसे उपाय या टोटके जिन्हें आजमाकर आप अपने जीवन में सबकुछ पा सकते हैं। 
 
पहला टोटका
 
मनोकामना पूर्ति हेतु : किसी भी शुक्ल पक्ष के प्रथम मंगलवार को ताजे गुलाब के फूल बजरंगबली पर 11 की संख्या में चढ़ायें। ऐसा लगातार 11 मंगलवार तक करने पर बजरंगबली प्रसन्न होकर साधक की मनोकामना पूर्ण करते हैं।
 
दूसरा टोटका 
 
अचानक धन प्राप्ति हेतु : किसी भी शाम को गुलाब के फूल में कपूर का टुकड़ा रखकर उसे जला दें। कपूर के जल जाने के बाद उस फूल को देवी को चढ़ा दें।
 
तीसरा टोटका
 
तिजोरी में बरकत हेतु : घर में बरकत हेतु मंगलवार के दिन लाल चंदन, लाल गुलाब और रोली लेकर उन्हें एक लाल कपड़े में बांध लें और उसे एक सप्ताह के लिए मंदिर में रख दें। एक सप्ताह के बाद उनको घर या दुकान की तिजोरियों में रख दें। इस उपाय से पैसा पानी की तरह व्यर्थ न बहेगा।
 
चौथा टोटका
 
रोग निवारण हेतु : अगर घर के किसी सदस्य के स्वास्थ्य में सुधर न हो रहा हो तो एक देशी अखंडित पान, गुलाब का फूल और कुछ बताशे रोगी के ऊपर से 31 बार उतारें तथा उनको चौराहे पर रख दें। इसके प्रभाव से रोगी की दशा में शीघ्रता से सुधार होगा।
 
पांचवां टोटका
 
ऋण मुक्ति के लिए : अखंडित पंखुड़ी वाले पांच गुलाब के फूल लाएं। इसके बाद सवा मीटर सफेद कपड़ा सामने रख कर बिछाएं और गुलाब के चार फूलों को चारों कोनों पर बांध दें। फिर पांचवां गुलाब मध्य में डालकर गांठ लगा दें। इसके बाद इसे ले जाकर किसी बहती हुई नदी में प्रवाहित कर दें। इस उपाय से ऋण मुक्ति और घर में सुख समृद्धि की प्राप्ति होगी । 
 
पांच गुलाब के फूल, एक चांदी का पत्ता, थोड़े से चावल, गुड़ लें और उन्हें एक सफेद रूमाल में रख दें। किसी भी सोमवार को विष्णु और लक्ष्मी के मंदिर में जाकर रुमाल को रखकर इन चीजों को हाथ में ले लें और 21 बार गायत्री मंत्र का जाप करने के बाद हर जाप के बाद कहें मेरी परेशानी दूर हो, मैं कर्ज मुक्त हो जाऊं, ऐसी प्रार्थना करें। फिर सभी सामग्री को इकठ्ठा करके सबको ले जाकर बहते जल में प्रवाहित कर दें। यह प्रक्रिया कम से कम 7 सोमवार तक करनी चाहिए।

छठा टोटका 
 
बच्चे के बीमार होने पर : यदि आपका बच्चा बीमार और जो भी खाता है उसकी उल्टी कर देता है। तब ऐसे में एक पान के पत्ते पर एक बूंदी का लड्डू, पांच गुलाब के फूल रखकर बच्चे के ऊपर से सात बार उसार कर चुपचाप किसी मंदिर में रखकर आ जाएं कष्टों से छुटकारा मिल जाएगा।
 
सातवां टोटका 
 
रुके काम होंगे शुरू : जिस व्यक्ति के कार्यों में बाधाएं आती हो, कार्य होते रूक जाते हों, ऐसे जातक को गुलाब का यह उपाय करना लाभप्रद साबित होगा। पूर्णिमा के दिन 3 गुलाब और 3 बेला अथवा चमेली के पुष्प सुबह स्नानादि से निवृत्त होकर किसी नदी में विसर्जित करना चाहिए। इस प्रयोग को 5 पूर्णिमा लगातार करने पर अच्छे परिणाम मिलने प्रारम्भ हो जाएंगे।
 
आठवां टोटका 
 
रोजगार हेतु : मंगलवार से प्रारंभ करते हुए 40 दिनों तक रोज सुबह के समय नंगे पैर हनुमानजी के मंदिर में जाएं और उन्हें लाल गुलाब के फूल चढ़ाएं। ऐसा करने से भी शीघ्र ही रोजगार मिलता है।

नौवां टोटका 
 
देवी दुर्गा : पान में गुलाब की सात पंखुड़ियां रखकर उस पान को देवी दुर्गा को चढ़ा दें। आपको धन की प्राप्ति होगी।
 
दसवां टोटका 
 
गुलाब का दूध : गुलाब का दूध लगाकर लक्ष्मी की उपासना करें। महालक्ष्म‍ी के मंदिर हर शुक्रवार को जाकर गुलाब चढ़ाएं।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख आज हो रहे सूर्य के राशि परिवर्तन को शुभ बनाएंगी नवरात्रि की आठवीं देवी महागौरी