jitendra

सिनेमा की यह अद्भुत भाषा गढ़ने वाले कोई और नहीं, बर्गमैन थे। गत सदी के सबसे महान फिल्‍मकार इंगमार बर्गमैन, जो हालाँकि...
ब्‍लॉगिंग की दुनिया से फरवरी, 2007 से जुड़ा और अपना ब्‍लॉग वाह ! मनी के नाम से बनाया। बिजनेस पत्रकारिता से पिछले 19 साल से...
कुछ बातें किताबों में लिखी जाती हैं और कुछ जीवन का यथार्थ होता है। जीवन का यथार्थ, जो आदर्श से नहीं, मनी से संचालित है।...
ब्‍लॉग चर्चा का सफर जारी है और इस सफर में हमारे साथ नए-नए हमराह जुड़ते जा रहे हैं। इस बार हमारी यह यात्रा जाकर रुकी है,...
ब्‍लॉग-चर्चा में आज हम कॉफी की चुस्कियों के साथ कुछ समय कॉफी हाउस में बिताने वाले हैं। कॉफी हाउस का भूगोल और वहाँ भीतर...
एक हिंदुस्‍तानी की डायरी पत्रकार अनिल सिंह का ब्‍लॉग है। इस डायरी में बहुत सारी बातें दर्ज है। जीवन के ढेरों अनुभव...
चीजें हमेशा ठीक वैसी ही नहीं होतीं, जैसी वह ऊपर से नजर आती हैं। जिंदगी भी वैसी नहीं होती, जैसी सतह पर दिखती है। चेहरा कितना...
ब्‍लॉग-चर्चा में आज हम बात करने वाले हैं, एक ऐसे शख्‍स की, जिनका नाम आलोक कुमार के बाद हिंदी के सबसे पुराने ब्‍लॉगरों...
दुबई में रह रही बेजी जैसन पेशे से तो डॉक्‍टर हैं, लेकिन मन उनका कवियों वाला है। वो गद्य भी लिखें तो उसमें कविता के सुर...
15 अगस्‍त, 1947 को आधी रात के वक्‍त, जब पूरा देश गहरी नींद में सोया हुआ था, वर्षों की गुलामी के घने कुहरे को भेदती हुई रोशनी...
जे. आर. डी. टाटा के बारे में बहुत-सी कहानियाँ सुनाई जाती हैं। मुंबई में फ्लोरा फाउंटेन के पास दलाल स्‍ट्रीट पर टाटा हाउस...
ब्‍लॉग-चर्चा में इस बार हम लेकर आए हैं, हिंदी की जानी-मानी चिट्ठाकार प्रत्‍यक्षा का ब्‍लॉग। ब्‍लॉग भी उनका हमनाम ही...
ब्‍लॉग-चर्चा का यह सफर इस बार जाकर रुका है, आलोक पुराणिक के ब्‍लॉग 'अगड़म-बगड़म' पर। बहुत हो गई गई गंभीर बातें। हर समय...
ब्लॉग एवं इन्टरनेट पर लेखन तो काफी सालों से चल रहा था, मगर वह अँग्रेजी में ही हुआ करता था और वह भी तकनीकी मसलों पर ही।...
ब्‍लॉग-चर्चा आज उड़न-तश्‍तरी पर सवार है। उड़न तश्‍तरी उड़ती हुई हिंदी ब्‍लॉगों की दुनिया की सैर कर रही है। ब्‍लॉग माध्‍यम...
बहुत हो गई ब्‍लॉग-चर्चा, गुरु गंभीर बातें, अब फुरसत से कुछ बतियाते हैं, गपियाते हैं। आज चलते हैं, फुरसतिया के ब्‍लॉग पर।...
आज से चार सौ साल पूर्व सोलहवीं शताब्‍दी में मुगल सम्राट अकबर के जमाने में जन्‍मे कवि और दार्शनिक तुलसीदास की रचनाएँ...
सन् 2005 में जब हिंदी में कोई ठीक से ब्‍लॉग का नाम भी नहीं जानता था, उदय प्रकाश ने अपने ब्‍लॉग की शुरुआत की, लेकिन यह सिलसिला...
हमारी ब्‍लॉग-चर्चा का नया ठौर है – निर्मल-आनंद । मुंबई में रह रहे और पेशे से टेलीविजन लेखन से जुड़े अभय तिवारी के बहुचर्चित...
कुर्तुल-ऐन-हैदर की उम्र तब मात्र 32 वर्ष थी, जब उन्‍होंने ‘आग का दरिया’ लिखा था। ‘आग का दरिया’ सचमुच आग का दरिया ही था।...
अगला लेख Author|jitendra|Webdunia Hindi Page 2