Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

ऑटोमोबाइल सेक्टर से खुशखबर, Lockdown खुलने के बाद बढ़ी वाहनों की बिक्री

webdunia
शुक्रवार, 16 अक्टूबर 2020 (11:31 IST)
नई दिल्ली। कोविड-19 महामारी के बीच लॉकडाउन खुलने और निजी परिवहन की मांग बढ़ने से सितंबर में यात्री वाहनों की बिक्री में 26 प्रतिशत का जबरदस्त उछाल देखा गया। दुपहिया वाहनों की बिक्री भी करीब 12 प्रतिशत बढ़ी।
 
वाहन निर्माता कंपनियों के संगठन सियाम के अध्यक्ष और मारुति सुजुकी इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केनिची आयुकावा ने संगठन के महानिदेशक राजेश मेनन के साथ बिक्री के आंकड़े जारी किए। सितंबर में यात्री वाहनों की बिक्री 26.45 प्रतिशत बढ़कर 2,72,027 इकाई पर पहुंच गई।
पिछले साल सितंबर में 2,15,124 यात्री वाहन बिके थे। यात्री वाहनों में कारें, उपयोगी वाहन और वैन हैं। कारों की बिक्री 28.92 फीसदी बढ़कर 1,63,981, उपयोगी वाहनों की बिक्री 24.50 फीसदी बढ़कर 96,633 और वैनों की बिक्री 10.64 फीसदी बढ़कर 11,413 फीसदी पर पहुंच गई।
 
दुपहिया वाहनों की बिक्री 11.64 प्रतिशत बढ़कर 18,49,546 इकाई हो गई। इसमें मोटरसाइकलों की बिक्री में 17.30 प्रतिशत की वृद्धि हुई और सितंबर 2019 के 10,43,621 मोटरसाइकलों की तुलना में इस साल सितंबर में 12,24,117 यात्री वाहन बिके। स्कूटरों की बिक्री में 0.08 फीसदी की मामूली वृद्धि हुई और इसका आंकड़ा 5,56,205 पर रहा।
आयुकावा ने कहा कि अभी ग्रामीण इलाकों से अधिक मांग आ रही है, लेकिन त्योहारी मौसम में शहरी मांग के भी जोर पकड़ने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि बीएस-6 उत्सर्जन मानक लागू करने का पूरा फायदा तभी मिलेगा, जब पुराने वाहनों को सड़क से हटाने के लिए सरकार आकर्षक स्क्रैपेज नीति लेकर आएगी। तिपहिया वाहनों की बिक्री में 71.91 प्रतिशत की भारी गिरावट दर्ज की गई है। पिछले साल सितंबर में देश में 66,362 तिपहिया वाहन बिके थे। सितंबर 2020 में यह आंकड़ा घटकर 18,640 रह गया।
 
यात्री वाहनों के निर्यात की स्थिति में अब भी सुधार नहीं हुआ है। सितंबर में इसका आंकड़ा 35.89 प्रतिशत घटकर 39,146 इकाई रह गया। कारों के निर्यात में 53.75 प्रतिशत और वैनों के निर्यात में 62.62 प्रतिशत की गिरावट रही, हालांकि उपयोगी वाहनों का निर्यात 29.58 फीसदी बढ़ा। मोटरसाइकलों का निर्यात 12.31 प्रतिशत बढ़ने से दुपहिया का कुल निर्यात 9.17 फीसदी बढ़कर 3,31,233 पर पहुंच गया। स्कूटरों के निर्यात में 14.73 प्रतिशत और मोपेड में 15.51 प्रतिशत की गिरावट रही।
 
पूर्णबंदी के दौरान कारखाने और डीलरशिप बंद रहने से चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही के आंकड़े अब भी बेहद कमजोर बने हुए हैं। सभी श्रेणी के वाहनों की कुल बिक्री पिछले वित्त की पहली छमाही के 24,48,818 से 41.66 प्रतिशत घटकर 14,28,529 रही है। इन 6 महीनों के दौरान यात्री वाहनों की बिक्री में 57.52 प्रतिशत, दुपहिया वाहनों में 38.31 प्रतिशत, वाणिज्यिक वाहनों में 63.27 प्रतिशत और तिपहिया वाहनों की बिक्री में 40.41 प्रतिशत की बड़ी गिरावट रही। (वार्ता)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मोदी सरकार का चीन को एक और बड़ा झटका, एयरकंडीशनर के आयात पर प्रतिबंध