नैनो के बाद भारतीय बाजार में एक और सस्ती कार की एंट्री

गुरुवार, 18 अप्रैल 2019 (23:22 IST)
भारतीय कार बाजार में 'नैनो' के बाद एक और सस्ती कार की इंट्री हो गई है। बजाज ने क्वाड्रिसाइकिल सेगमेंट की क्यूट (Qute) कार को बाजार में उतार दिया है। दिखने में भले ही यह कार लगती हो, लेकिन इसे ऑटो रिक्शा का फोर व्हीलर वर्जन कहा जा सकता है। अब बड़ा सवाल यह उठता है कि क्या यह कार भारतीय ग्राहकों की पसंद बन पाएगी या इसका भी हश्र कहीं टाटा की नैनो जैसा न हो जाए? बजाज ऑटो ने quadricycle कैटगरी की Qute कार को 2012 के दि‍ल्‍ली ऑटो शो में RE60 के नाम से पेश कि‍या था। एक नजर बजाज की इस छोटी कार के फीचर्स पर- 
 
बजाज क्यूट में 216.6 सीसी का पेट्रोल इंजन मिलेगा। इसे सीएनजी से भी चलाया जा सकेगा। पेट्रोल मोड में यह 13 पीएस की पावर और 18.9 एनएम का टॉर्क जनरेट करेगी। सीएनजी मोड में यह 10.98 पीएस की पावर और 16.1 एनएम का टॉर्क जनरेट करेगी। इसमें मोटरसाइकल की तरह 5-स्पीड सिक्वेंशल गियर बॉक्स मिलेगा। बजाज क्यूट की लंबाई 2752 एमएम होगी। इसका वजन 451 एनएम होगा।
 
Qute में स्टीयरिंग व्हील और चार पहिए लगे हैं। ड्राइवर के साथ एक पैसेंजर के बैठने की सीट भी इसमें दी गई है। इसमें ड्राइवर समेत कुल चार लोग सफर कर सकते हैं। सभी पैसेंजर्स के लिए इसमें सीटबेल्ट भी दिए गए हैं। भारत में इसे एक्सपोर्ट करके बेचा जाएगा।
 
Qute के पेट्रोल वेरियंट की कीमत मुंबई में 2.48 लाख रुपए और सीएनजी वेरियंट की कीमत 2.78 लाख रुपए हैं। कीमत में देखा जाए तो इसकी कीमत टाटा नैनो से भी सस्ती है। टाटा नैनो का प्राइस 2.26 लाख रुपए से लेकर 3.20 लाख रुपए है। सबसे बड़ा सवाल यह कि यह कार मध्यम वर्ग की पसंद बन पाएगी।
लगातार घटी गई नैनो की ब्रिकी : नैनो को जनवरी 2008 के ऑटो एक्सपो में सामने लाया गया था। नैनो के बेसिक मॉडल को मार्च 2009 में 1 लाख रुपए की कीमत के साथ लॉन्च किया गया था। रतन टाटा के इस सपनों की कार भारतीय ग्राहकों की पसंद नहीं बन पाई।
 
नैनो के मॉडल्स को कई अपग्रेड के साथ लांच किया गया, लेकिन ब्रिकी और निर्यात में लगातार कमी आती रही। आंकड़ों के अनुसार मार्च में नैनो की एक भी यूनिट का न तो उत्पादन हुआ और न ही बिक्री हुई। पिछले साल के इसी महीने में कंपनी ने 31 नैनो का उत्पादन किया था और 29 इकाइयों की बिक्री की थी।
 
सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्‍युफेक्‍चर्स (सियाम) के मुताबिक पिछले साल अप्रैल से दिसंबर के बीच नैनो के निर्यात में 75 प्रतिशत की गिरावट रही। खबरें तो यहां तक आ रही थीं कि कंपनी इस कार का प्रोडक्शन अप्रैल 2020 में बंद कर सकती है। हालांकि टाटा मोटर्स अब तक इस बात पर कायम रही है कि नैनो के भविष्य को लेकर अब तक कोई फैसला नहीं किया गया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख विदेश में फंसे यात्रियों के लिए जेट एयरवेज ने शुरू किया‘मोचन किराया’