#Balakot: वायुसेना सूत्रों ने बताया, भारतीय विमानों ने कैसे किया LOC पार

मंगलवार, 26 फ़रवरी 2019 (11:49 IST)
भारतीय वायुसेना के सूत्रों ने बीबीसी को बताया है कि भारतीय वायुसेना के विमानों ने नियंत्रण रेखा पार करके कई निशानों पर हवाई हमले किए हैं। 
 
वायुसेना के अधिकारियों ने बीबीसी संवाददाता जुगल पुरोहित को इस कार्रवाई की जानकारी देते हुए बताया कि मंगलवार तड़के अंबाला से कई मिराज विमान उड़े और बिना अंतरराष्ट्रीय सीमा का उल्लंघन किए, निश्चित लक्ष्यों पर बम बरसाए।
 
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, "देश की रक्षा के लिए बहुत ज़बरदस्त क़दम उठाया है सेना ने और सेना को इस तरह का क़दम उठाने की छूट प्रधानमंत्री मोदी जी ने दी थी। अब सेना के पीछे पूरा देश खड़ा है"।
 
उन्होंने कहा, "पुलवामा में हमला करने वाले आतंकियों को 100 घंटे के भीतर मार गिराया गया, पाकिस्तान का मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस लिया गया, भारत के हिस्से का पानी पाकिस्तान को न देने का निर्णय लिया गया, उसके बाद अब यह कार्रवाई की गई है।"
 
विमानों ने एलओसी को पार किया और नियंत्रण रेखा के नज़दीक बालाकोट नाम के एक क़स्बे पर बम गिराए।
 
वायु सेना के अधिकारियों ने बताया कि ये सारा अभियान आधे घंटे में पूरा हुआ। विमान तीन बजे तड़के उड़े और साढ़े तीन बजे तक सभी विमान सुरक्षित लौट आए।
 
इससे पहले पाकिस्तानी सेना ने सुबह कहा था कि भारतीय वायुसेना ने भारत-पाक नियंत्रण रेखा (एलओसी) का उल्लंघन किया है और पाकिस्तान की सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश की।
 
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वायुसेना को बधाई देते हुए ट्वीट किया है - "मैं भारतीय वायुसेना के पायलटों को सलाम करता हूँ।"

Indian aircrafts intruded from Muzafarabad sector. Facing timely and effective response from Pakistan Air Force released payload in haste while escaping which fell near Balakot. No casualties or damage.

— Maj Gen Asif Ghafoor (@OfficialDGISPR) February 26, 2019
पाक सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया कि मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर से भारतीय विमानों ने घुसपैठ की कोशिश की, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने त्वरित कार्रवाई की है।
 
उन्होंने ट्वीट किया, "भारतीय विमानों ने मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर से घुसपैठ की। पाकिस्तानी वायु सेना की तरफ़ से तत्काल और प्रभावी कार्रवाई की गई जिसके बाद वो भागने लगे।"
"भागते हुए उन्होंने हड़बड़ा कर कुछ बम गिराए जो बालाकोट के नज़दीक गिरे। इसमें कोई नुक़सान या कोई हताहत नहीं हुआ है।"
 
पाकिस्तान ने ये दावा ऐसे वक़्त में किया है जब भारत और पाकिस्तान के बीच पुलवामा हमले को लेकर तनाव की स्थिति है। 
 
14 फ़रवरी को हुए हमले के बाद भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि सुरक्षाबलों को ख़ुली छूट दे दी गई है।
 
वहीं पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा था कि अगर पाकिस्तान पर हमला होता है तो पाकिस्तान भी जवाबी कार्रवाई करेगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

अगला लेख आख़िर कहां है बालाकोट, जहां हो रही हमले की बात