#Nowshera: पाकिस्तान की सेना ने कहा, 'हमने अपने बचाव में भारत पर हमला किया है'

बुधवार, 27 फ़रवरी 2019 (12:18 IST)
प्रतीकात्मक चित्र
पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ़ गफ़ूर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि उसकी वायु सेना ने बुधवार सवेरे भारत प्रशासित कश्मीर में छह ठिकानों पर हमले किए हैं।
 
उनका कहना है, "हमने हमले अपने बचाव में किए हैं। पाकिस्तान की सेना के पास जवाब देने के अलावा कोई चारा नहीं था।"
 
उन्होंने कहा कि वो भारत के तरीक़े से जवाब देने की बजाय ऐसे मुल्क की तरह जवाब देना चाहते थे जो ज़िम्मेदार है।
 
उन्होंने कहा, "आज सवेरे पाकिस्तान एयरफोर्स ने ये फ़ैसला किया कि वो कोई सैन्य टार्गेट नहीं लेंगे। साथ ही इसमें किसी इंसानी ज़िदगी का नुक़सान नहीं हो। हमारी सेना ने अपनी हदों के भीतर रहते हुए टार्गेट लॉक किए और थोड़े फ़ासले पर खुली जगह पर हमले किए।"
 
"भिंबर गली, केजी टॉप और नारियान के इलाक़े में भारतीय सेना के सप्लाई डिपो पर हमले लॉक किया। लेकिन हमले ज़िम्मेदारी का सबूत देते हुए उससे कुछ दूरी हमले किए।"

पाक सेना के प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तानी सेना के हमले के बाद भारतीय एयरफ़ोर्स के दो लड़ाकू विमान सीमा के नज़दीक आए थे जिनका पाकिस्तानी वायुसेना ने मुक़ाबला किया और उन्हें मार गिराया।
 
"इनमें से एक हमारी सीमा के पास गिरा जबकि एक भारतीय सीमा के नज़दीक गिरा है। लेकिन भारत में एक और भारतीय विमान के गिरने की ख़बर है उसमें पाकिस्तान का कोई हाथ नहीं है।"
 
"भारतीय मीडिया में दावा किया जा रहा है कि भारत ने पाकिस्तान का एफ़-16 विमान गिराया है लेकिन हमने एफ़-16 का इस्तेमाल नहीं किया है।"
 
उनका कहना है, "हम शांति का रास्ता अख़्तियार करना चाहते हैं। लोगों को हक़ है कि वो शांति से रहें। आइए मिल कर बैठें और बातचीत करें। हूकूमते पाकिस्तान की शांति की अपील को भारत सुने और फ़ैसला करे।"
 
हालांकि पाकिस्तानी सेना के इन दावों की किसी भी स्वतंत्र स्रोत से अब तक पुष्टि नहीं हो सकी है।
 
समाचार एजेंसियों पीटीआई और रॉयटर्स के मुताबिक़ बालाकोट हमले के अगले दिन यानी बुधवार को पाकिस्तान के विमान ने भारतीय वायु सीमा में प्रवेश किया।
 
एजेंसी के अनुसार पाकिस्तानी विमान जम्मू-कश्मीर के राजौरी ज़िले के नौशेरा सेक्टर में दाख़िल हुए हैं।
 
समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार भारत के विमानों ने पाकिस्तानी विमानों को भागने पर मजबूर कर दिया जिसके बाद वो पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर की तरफ़ भाग गए।
कई हवाईअड्डे बंद
समाचार एजेंसी रॉयटर्स का कहना है कि पठानकोट, श्रीनगर, जम्मू, लेह के हवाई अड्डों को बंद किया गया है।
 
समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार श्रीनगर, जम्मू, लेह, चंडीगढ़ और अमृतसर हवाईअड्डों से उड़ानों को रोक दिया गया है। हालांकि चंडीगढ़ के एयरपोर्ट के निदेशक ने बीबीसी को बताया है कि हवाई अड्डा सामान्य रूप से काम कर रहा है।
 
विमानन कंपनी एयर विस्तारा ने जानकारी दी है कि "हवाई मार्ग में लगाए जाने के कारण अम-तसर, श्रीनगर, चंडीगढ़ और जम्मू से उड़ानों को फिलहाल रोक दिया गया है।"
 
विमानन कंपनी एयर विस्तारा ने जानकारी दी है कि "एयरस्पेस में रोक लगाए जाने के कारण अमृतसर, श्रीनगर, चंडीगढ़ और जम्मू से उड़ानों को फिलहाल रोक दिया गया है।"
 
मंगलवार तड़के भारत ने की थी कार्रवाई
मंगलवार को भारत ने दावा किया था कि उसने पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमले किए हैं, जिसमें जैश-ए-मोहम्मद के कई ठिकानों को नष्ट कर दिया गया।
 
जवाब में पाकिस्तान ने कहा था कि भारतीय विमानों से उनकी हवाई सीमा का उल्लंघन किया है। हालांकि पाकिस्तान ने इससे इनकार किया है कि इससे कोई नुक़सान हुआ है।
 
पाकिस्तान का कहना था कि भारतीय विमान जल्दी में कुछ विस्फोटक गिराकर लौट गए। बाद में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की।
 
जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने कहा कि वे इस हमले का जवाब देंगे।
 
दरअसल पुलवामा में एक आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ़ के 40 जवानों के मारे जाने के बाद दोनों ही देशों में तनाव बढ़ गया था। भारत ने कहा था कि वो इस हमले का जवाब देगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

अगला लेख #Balakot: जैश-ए-मोहम्मद का दावा, युसूफ़ अज़हर सहित कोई मौत नहीं