Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जोश को 21 साल, ऐश्वर्या का भाई नहीं बनना था इसलिए सलमान ने छोड़ दी थी मूवी

webdunia

समय ताम्रकर

बुधवार, 9 जून 2021 (08:31 IST)
फिल्म जोश को 9 जून 2021 को रिलीज हुए 21 बरस पूरे हो गए। यह फिल्म 2000 में बनी थी और इसे मंसूर खान ने निर्देशित किया था। मंसूर ने ‘कयामत से कयामत तक’ और ‘जो जीता वही सिकंदर’ जैसी उम्दा फिल्म बना कर अपना नाम कर लिया था। बॉलीवुड वालों को उम्मीद थी कि आने वाले समय में उनका नाम बड़े निर्देशकों के साथ लिया जाएगा और वे कई हिट फिल्मों का निर्माण करेंगे, लेकिन एक दिन सब कुछ छोड़ कर मंसूर मुंबई से दूर प्राकृतिक सौंदर्य के बीच रहने चले गए। फिल्म इंडस्ट्री और शहरी जीवन से उनका मोह भंग हो गया था। आमिर ने कई बार कोशिश की कि मंसूर वापस मुंबई आएं और फिल्में बनाएं, लेकिन वे उनके ये प्रयास असफल रहे।

webdunia


आमिर का नाम क्यों था गायब?
बहरहाल, जब जोश बनाने की घोषणा की गई थी तो इस फिल्म के कलाकारों में आमिर खान का नाम नदारद था। आमिर और मंसूर चचेरे भाई हैं और दोनों के बीच अच्छी बांडिंग भी है। दरअसल आमिर को मंसूर ने वो रोल ऑफर किया था जो चंद्रचूड़ सिंह ने निभाया था। यह लवर बॉय का रोल था और इस तरह की भूमिकाएं आमिर कई फिल्मों में अदा कर चुके थे। एक तो आमिर को अपने रोल में ऐसी कोई बात नजर नहीं आई जो उन्हें इस फिल्म को करने के लिए उत्साहित कर सके। दूसरी बात, वे लवर बॉय की छवि से छुटकारा पाना चाहते थे। मंसूर, मैक्स की रफ-टफ वाले रोल के लिए आमिर को नहीं लेना चाहते थे। बात नहीं बन पाई तो आमिर फिल्म से अलग हो गए।

webdunia


सलमान को भी अलग होना पड़ा
मैक्स वाले रोल के लिए मंसूर के ‍दिमाग में सलमान खान का नाम था। मंसूर को विश्वास था कि इस रफ-टफ रोल में सलमान जमेंगे। सलमान को रोल तो पसंद आ गया, लेकिन जब पता चला कि वे इस फिल्म में ऐश्वर्या राय के भाई के रूप में भी नजर आएंगे तो वे ‍बिदक गए। ऐश्वर्या राय से उस समय उनकी नजदीकी सुर्खियां बटोर रही थीं। भला वे यह भूमिका कैसे निभा सकते थे। दो ही विकल्प थे। या तो ऐश्वर्या को हटा कर दूसरी हीरोइन को लिया जाए या फिर सलमान खुद ही फिल्म से हट जाएं। सलमान ने दूसरा रास्ता चुना।

webdunia


शाहरुख दोहरा नहीं पाए इतिहास
आखिरकार उनकी जगह शाहरुख खान को लिया गया। शाहरुख ने इसके पहले भी बाजीगर और दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे में सलमान को रिप्लेस किया था क्योंकि सलमान ये फिल्में करने के लिए राजी नहीं हुए थे। लेकिन जोश उन फिल्मों की तरह सफल नहीं रही, जैसी कि वो फिल्में सफल रही थीं जिनमें सलमान की जगह शाहरुख ने ली थी। जोश ने उम्मीद से कमतर प्रदर्शन बॉक्स ऑफिस पर किया। एक तरह से यह फिल्म फ्लॉप रही। मंसूर जैसा निर्देशक और शाहरुख-ऐश्वर्या जैसे सितारे भी इसको नहीं बचा पाए। जैसा ‍कि हमेशा होता है, फिल्म असफल होने के कारण ढूंढे गए।

webdunia


असफलता के कारण
सबसे बड़ा जो कारण सामने आया वो ये कि शाहरुख-ऐश्वर्या को भाई-बहन बनाकर ही मंसूर ने गलती की। दोनों बड़े सितारे थे और उनसे दर्शकों को रोमांस की उम्मीद थी। वे भला उन्हें भाई-बहन के रूप में कैसे देखते? ऐश्वर्या के प्रेमी के रूप में चंद्रचूड़ नजर आए जो कि बड़े सितारे नहीं थे। शाहरुख जैसे स्टार की उपस्थिति में चंद्रचूड़ की बांहों में ऐश्वर्या को देख पाना दर्शक स्वीकार नहीं कर पाए। ऐसे में फिल्म में उनका मन नहीं लगा। फिल्म के कमजोर प्रदर्शन से मंसूर भी दु:खी हो गए और इसके बाद उन्होंने मुंबई छोड़ दिया।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सोनम कपूर के बारे में 30 रोचक जानकारियां