Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

'दिल दे दिया' सिंगर पायल देव बोलीं- किसी गाने को मधुर अंदाज में गाती हूं तो...

webdunia
शनिवार, 1 मई 2021 (14:54 IST)
सलमान खान और जैकलीन फर्नांडिस पर फिल्माए गए फिल्म 'राधे' के गाने 'दिल दे दिया' की रिलीज के साथ ही गायिका पायल देव भी एक बार फिर से इतिहास रचने जा रहीं हैं। 'राधे' के इस गाने को हिमेश रेशमिया द्वारा संगीतबद्ध किया है तो वहीं पायल देव ने इसे अपनी सुमधुर आवाज से सजाया है।

 
पायल देव की पहचान एक बेहद ही व्यस्त संगीतकार के तौर पर होती है। यूं तो पायल ने अपने करियर की शुरुआत एक सिंगर के तौर पर की थी मगर अचानक कुछ ऐसा हुआ कि फिर वो एक गायिका के साथ एक संगीतकार के तौर पर भी पहचाने जाने लगीं।
 
उल्लेखनीय है कि अपनी बेहद अलहदा आवाज के लिए जाने जानेवाली और हर तरह के गानों को बहुत ही आसानी से गाने की काबिलियत रखनेवाली पायल देव देखते ही देखते सभी कम्पोजर की पहली पसंद बन गई हैं।
 
webdunia
पायल देव कहती हैं, हर गाना अपने आप में अनूठा होता है और इसे अनूठा बनाते हैं इसके कम्पोजर और अरेंजर। ऐसे में एक सिंगर से उम्मीद की जाती है कि वो उम्दा तरीके से उन्हें गाए। हर बार जब मैं किसी गाने को मधुर अंदाज में गाती हूं तो वो मेरे लिए जीवन को बदलकर रख देनेवाला अनुभव साबित होता है।
 
'राधे' के 'दिल दे दिया' गाने के बारे में पायल कहती हैं कि ये गाना उनके लिए इसलिए भी बहुत अहम है क्योंकि इसके सलमान खान और हिमेश रेशमिया की जोड़ी भी जुड़ी हुई है जिसके लिए उन्होंने अपनी आवाज़ दी है। वो कहती हैं, हिमेश रेशमिया मेरी आवाज के टेक्सचर से अच्छी तरह से वाकिफ़ हैं। एक कम्पोजर के तौर पर वो अच्छी तरह से जानते हैं कि उन्हें क्या चाहिए। उनके लिए किसी गाने को गाना बेहद आसान होता है और इसी सहज तरीके से वे एक सिंगर को किसी गाने को गाने के लिए निर्देशित करते हैं।
 
पायल आगे कहती हैं, किसी भी गाने की खूबी उसमें अंतर्निहित मूड में होती है। इस गाने का मूड 'जुम्मे की रात' गाने जैसा है.। मैंने 'गेंदा फूल' और रेस 3 में 'सासें हुईं धुआं धुआं' भी गाया था। जैकलीन के लिए ये मेरा तीसरा तो वहीं सलमान के लिए ये मेरा चौथा गाना है। इस गाने को बेहतरीन अंदाज में गाने के लिए मैंने पूरी तरह से हिमेश भाई के निर्देशों का पाल‌न किया है।
 
उन्होंने मुझपर पूरा भरोसा था कि मैं इस गाने के साथ न्याय करूंगी। मुझपर उनका यूं यकीन करना मेरे लिए बहुत मायने रखता है। उन्हें मेरी आवाज का टेक्सचर बहुत पसंद हैं और वो मेरी आवाज के नए आयामों के साथ प्रयोग करते रहते हैं। वो मेरी आवाज़ के अलग टेक्सचर, अलग टोन, अलग तरह के फील के साथ गाने को एक अलग ऊंचाई पर ले जाते हैं। ये एक डांस ट्रैक है और जब आप इस तरह के गाने गाते हो तो उसके एक लिए एक ख़ास तरह का मूड होना मेरी लिए बहुत ज़रूरी होता है।
 
बता दें कि जब पायल का पहला सुपरहिट गाना 'तुम ही आना' रिलीज हुआ था तो एक‌ कम्पोज़र के‌ तौर पर उनके पास गानों के ऑफ़रों का अंबार लग गया था। तब से पायल ने एक के बाद एक क‌ई हिट गाने दिए हैं, फिर चाहे वो फ़िल्मों के गाने हों या फिर वो गाने डिजिटल रिलीज़ से जुड़े हों।
 
webdunia
बेहद कम समय में ही उन्होंने अपने फैंस और चाहनेवालों की बदौलत एक कम्पोजर और गायिका के तौर पर अपनी अलग पहचान बना ली है। पायल ने अपने करियर की शुरुआत मुंबई में तमाम ब्रांड्स के एड फिल्मों, डाक्यूमेंट्रियों और कॉर्पोरेट्स के लिए फिल्मों के जिंगल्स को गाने से की थी। उन्होंने ग्रांड मस्ती का टाइटल सॉन्ग भी गाया था जो बेहद सुपरहिट साबित हुआ।
 
इनके अलावा पायल ने बाजीराव मस्तानी, रेस 3, दबंग 3, स्टूडेंट ऑफ द ईयर आदि कई फिल्मों‌ के लिए गाने गाए हैं। अगर इंडिपेंडेंट गानों की बात की जाए तो उनमें पायल ने गेंदाफूल, दिल चाहता है, क्यों, बारिश, बेपनाह प्यार आदि शामिल हैं। बात चाहे गाने की हो या फिर गानों को कम्पोज़ करने की, पायल को नए साउंड और स्टाइल को एक्सप्लोर करना बेहद पसंद है जिसमें पॉप, वेस्टर्न, जैज, गजल हिपहॉप, रॉक आदि का शुमार है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वालों पर भड़के आर. माधवन, बोले- हमारे बीच राक्षस भी मौजूद हैं