Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कभी बॉलीवुड में चलता था इनका सिक्का, आखिरी समय में हो गए पैसों के मोहताज

हमें फॉलो करें webdunia

WD Entertainment Desk

शुक्रवार, 20 जनवरी 2023 (13:38 IST)
बॉलीवुड इंडस्ट्री भले ही बाहर चकाचौंध, ग्लैमरस और पैसों से भरपूर नजर आती हो, लेकिन इसके अंदर भी कई काले राज छुपे हुए हैं। मनोरंजन जगत के ऐसे कई सितारे है जिन्होंने खूब नाम और पैसा कमाया, लेकिन बाद में इन्हें गरीबी और अकेलेपन का सामना करना पड़ा। 
 

भगवान दादा-
बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन की डांस शैली के कई लोग दीवाने है लेकिन खुद अमिताभ ने जिनकी डांस शैली को अपनाया वह थे भगवान दादा। वह पचास के दशक के सुपरस्टार थे। मुक फिल्मों से अपना करियर शुरू करने वाले भगवान दादा ने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया। 
 
बाद में हालत ऐसे हो गए की बंगले में रहने वाले भगवान दादा को चॉल में रहना पड़ा। हालात की मार और वक्त के सितम से बुरी तरह टूट चुके हिन्दी फिल्मों के स्वर्णिम युग के अभिनेता भगवान दादा ने 4 फरवरी 2002 को गुमनामी के अंधेरे में रहते हुए इस दुनिया को अलविदा कह दिया।
 
एके हंगल- 
फिल्म शोले के रहीम चाचा तो आप को याद होंगे। इस किरदार को एके हंगल ने निभाया था। 50 साल की उम्र में बतौर अभिनेता अपना करियर शुरू करने वाले अभिनेता एके हंगल ने कई सालों तक अलग-अलग किरदार निभाकर अपने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया। 
 
बॉलीवुड के सफल एक्टर होने के बावजूद, एक समय के बाद एके हंगल को काम मिलना बंद हो गया। एके हंगल की जिंदगी में एक समय ऐसा भी था जब उनके पास दवाई खरीदने तक के पैसे नहीं थे। 95 साल की उम्र में वह अपने बेटे के साथ एक छोटे से घर में रह रहे थे।
 
उस दौरान कई सितारों के आगे बढ़कर एके हंगल की मदद की। आर्थिक तंगी में मदद को लेकर भी वे स्वाभिमानी बने रहे और किसी के आगे हाथ नहीं फैलाया। 26 अगस्त 2012 को 98 साल की उम्र में उनका निधन हो गया।
 
विमी-
1967 में रिलीज हुई सुनील दत्त स्टारर 'हमराज' ने बॉलीवुड में एंट्री लेने वाली विमी को रातों-रात स्टार बना दिया। 60 और 70 के दशक में पर्दे पर राज करने वालीं एक्ट्रेस विमी की खूबसूरती का हर कोई दीवाना था। विमी उस दौर की सबसे आजाद ख्यालों वाली एक्ट्रेस मानी जाती थीं।
 
शराब की लत, बढ़ते कर्ज और खराब फैमिली लाइफ ने विमी का करियर बिगाड़ दिया और विमी का अंत बेहद ही दर्दनाक हुआ था। विमी बहुत कम उम्र में ही इस दुनिया को अलविदा कह गईं। कभी महंगी कारों में घूमने वाली विमी अपनी मौत के समय अस्पताल के जनरल वार्ड में भर्तीं थीं। विमी के पार्थिव शरीर को अर्थी तक नसीब नहीं हुई। उनके पार्थिव शरीर को एक ठेले पर डालकर ले जाया गया था। 
 
मीना कुमारी-
मीना कुमारी को बॉलीवुड की ट्रेजेडी क्वीन कहा जाता हैं। उनकी खूबसूरती पर बॉलीवुड के कई दिग्गज फिदा थे। उन्होंने पहले से शादीशुदा कमाल अमरोही से शादी रचाई थीं। निजी जीवन में चल रही उथल पुथल ने मीना कुमारी को इतना परेशान कर दिया कि वो शराब के नशे में डूब गईं। 
 
जिंदगी के अंतिम वक्त में मीना कुमारी आर्थिक रूप से इतनी कमजोर हो गई थीं कि उनके पास अस्पताल का बिल चुकाने तक के पैसे नहीं थे। 31 मार्च 1972 को मीना कुमारी ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया।
 
परवीन बाबी-
बॉलीवुड की ग्लैमरस एक्ट्रेस की लिस्ट में शुमार परवीन बाबी की मौत भी बेहद गुमनामी में हुई थी। उनकी मौत का पता 2 दिन बाद चला था। 2005 में परवीन लाश उनके घर में पाई गई थी। उनकी मौत का रहस्य आज भी बरकरार है। कोई कहता है कि उनकी मानसिक हालत ठीक नहीं थी, तो कोई कहता है उन्होंने आत्महत्या कर ली।
 
अचला सचदेव-
फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' में सिमरन यानी काजोल की दादी के रोल में नजर आईं अचला सचदेव का निधन 2012 में अकेलेपन से जूझते हुए पुणे के एक अस्पताल में हुआ था। यूएस में रह रहे बेटे ज्योतिन ने भी उनकी कोई सुध नहीं ली।
 
पति की मौत के बाद वो 12 साल तक अचला अकेली 2 बीएचके फ्लैट में रहती थीं। सिर्फ एक अटेंडेंट रात में उनके साथ रहती थी। एक रात वो पानी लेने के लिए किचन में गईं और गिर पड़ीं। इससे उनका पैर टूट गया। अस्पताल में बॉलीवुड का एक भी शख्स उन्हें देखने नहीं पहुंचा। 
 
आखिरी समय में अचला के पास इतने पैसे भी नहीं थे कि वो अपना इलाज करवा सकें। आखिरकार साल 2012 में वो जिंदगी की जिंदगी हार गईं और उनका निधन हो गया।
 
भारत भूषण-
बॉलीवुड एक्टर भारत भूषण ने फिल्म बैजू बावरा में मीना कुमारी संग काम करके जबरदस्त पहचान बनाई थी। पर्दे पर भारत ने कई दर्द भरे किरदार निभाए और असल जिंदगी में भी उन्होंने वैसे ही दर्द झेला। एक समय भारत भूषण इंडस्ट्री के सबसे अमीर एक्टर्स में शुमार थे।
 
लेकिन बाद में भारत भूषण कर्ज में डूब गए और पाई-पाई को मोहताज हो गए। उनके बंगले, कारे सब कुछ बिक गया। भारत भूषण ने जितना कमाया था वो सब गवां दिया। आखिरी दिनों में वह बहुत ज्यादा बीमार हो गए थे। लेकिन उनके पास इलाक करवाने तक के पैसे नहीं थे। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

रश्मिका मंदाना की मासूमियत से प्रभावित हुईं 'मिशन मजनू' की निर्माता गरिमा मेहता, तारीफ में कही यह बात