कबीर सिंह की कहानी

बैनर : टी-सीरिज़, सिने 1 स्टूडियो
निर्माता : भूषण कुमार, मुराद खेतानी, कृष्ण कुमार, अश्विन वर्दे
निर्देशक : संदीप रेड्डी वांगा 
संगीत : अमाल मलिक, विशाल मिश्रा, मिथुन, संचेत-परम्परा 
कलाकार : शाहिद कपूर, किआरा आडवाणी, अर्जन बाजवा, सुरेश ओबेरॉय 
रिलीज डेट : 21 जून 2019 
 
कबीर सिंह 2017 में रिलीज़ हुई तेलुगु फिल्म 'अर्जुन रेड्डी' का हिंदी रिमेक है जिसे संदीप वांगा ने निर्देशित किया था। कहानी है कबीर सिंह (शाहिद कपूर) की जो कि बहुत ज्यादा गुस्सैल है। इस वजह से आए दिन वह विवादों में उलझता रहता है। वह फाइनल ईयर मेडिकल स्टूडेंट है। 
 
इसी कॉलेज में प्रीति (किआरा आडवाणी) फर्स्ट ईयर स्टूडेंट है। प्रीति को देखते ही कबीर का दिल उस पर आ जाता है। वह कॉलेज में सभी विद्यार्थियों को धमकी देता है कि प्रीति सिर्फ उसकी है। 
 
धीरे-धीरे प्रीति का दिल जीतने में कबीर कामयाब हो जाता है। कबीर को एमबीबीएस की डिग्री मिल जाती है और वह मास्टर्स डिग्री हासिल करने में जुट जाता है। 


 
एक दिन प्रीति के पिता दोनों को किस करते हुए देख लेते हैं और बेहद नाराज होते हैं। वे दोनों के रिश्ते का विरोध करते हैं। प्रीति को कबीर 6 घंटे का समय देता है। यदि वह उसके साथ नहीं आएगी तो वह यह रिश्ता खत्म कर देगा। 
 
प्रीति का फोन जब्त कर लिया जाता है। उसके माता-पिता इस कोशिश में लग जाते हैं कि वह किसी भी तरह कबीर से नहीं मिल पाए। हालात कुछ ऐसे बन जाते हैं कि प्रीति की शादी और कहीं तय कर दी जाती है। 



 
इसके बाद कबीर बेहताशा शराब पीने लगता है। ड्रग्स लेने लगता है। नशे में सर्जरी करने लगता है। वह विनाश के रास्ते पर चलने लगता है। 
 
क्या प्रीति उसे मिल पाएगी? क्या कबीर फिर सुधर पाएगा? इन प्रश्नों के जवाब मिलेंगे फिल्म 'कबीर सिंह' में। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ये लो हाजमोला : चिंटू का यह चटपटा चुटकुला हंसा देगा आपको