इंदौर में Corona का बड़ा खतरा मंडराया, 5 मरीजों की मौत 93 नए कोरोना पॉजिटिव मिले

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

बुधवार, 15 जुलाई 2020 (00:27 IST)
इंदौर। मध्यप्रदेश के महानगर इंदौर में मौतों और संक्रमितों की लगातार बढ़ती संख्या ने जिला प्रशासन की नींद उड़ा दी है। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए किए जा रहे तमाम नए प्रयोग नाकाफी साबित हो रहे हैं। मंगलवार को 5 नई मौतों के अलावा 93 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों का मिलना एक बड़े खतरे की तरफ इशारा कर रहा है। शहर में अब तक 278 लोगों की मौत के अलावा कुल संक्रमितों का आंकड़ा 5496 पर पहुंच गया है।
 
उक्त जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन में देर रात दी गई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर प्रवीण जड़िया के अनुसार मंगलवार को 3158 टेस्ट किए, जिसमें 93 मरीजों में कोरोना पॉजिटिव पाया गया जबकि 3039 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई। नए मरीजों को मिलाकर शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 5 हजार 496 पर पहुंच गया है।
 
उन्होंने कहा कि मंगलवार को 2298 सैंपल प्राप्त हुए। अब तक हमें कुल 1 लाख 8 हजार 480 सैंपलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हो चुकी है।‍ शहर के विभिन्न अस्पतालों से 46 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया, जिन्हें मिलाकर अब तक स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 4074 हो गई। 
 
डॉ. जड़िया के अनुसार विभिन्न अस्पतालों में फिलहाल 1144 कोरोना पॉजिटिव मरीज उपचाररत हैं। मंगलवार को संस्थागत क्वारेंटाइन (मैरेज गार्डन और हॉस्टल) से 33 व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया। इन स्थानों से अब तक 4825 व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया जा चुका है।
 
इंदौर में लेफ्ट और राइट नया प्रयोग : जिला आपदा प्रबंधन समिति द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार मंगलवार को शहर में लेफ्ट और राइट का नया प्रयोग किया गया। यानी एक दिन लेफ्ट साइट की दुकाने बंद रहेंगी और राइट साइट की दुकानें चालू रहेंगी। अगले दिन इसका उलटा होगा। इस नियम का पालन कराने के लिए दिन भर इंदौर नगर निगम के झोन अधिकारियों की गाड़ियां दौड़ती रहीं।
मिल क्षेत्र में जोन अधिकारी माइक पर निर्देश देते रहे और यह भी ऐलान करते रहे कि नियम का पालन न करने पर चालान की कार्रवाई की जाएगी। पाटनीपुरा पर कुछ सब्जी का ठेला लगाने वालों के जोन अधिकारी ने इसलिए चालान बनाए कि वे सामान अमानक प्लास्टिक की पन्नी में ग्राहकों को दे रहे थे। 
 
23 प्रतिष्ठानों के विरुद्ध स्पॉट फाइन : लेफ्ट-राइट सिद्धांत का पालन नहीं करने पर जवाहर मार्ग, सीतलामाता बाजार, बियाबानी रोड़, मारोठिया बाजार में 23 प्रतिष्ठानों के विरुद्ध स्पॉट फाइन किया गया। साथ ही साथ इन इलाकों के व्यापारी एसोसिएशन के पदाधिकारियों को बुलाकर समझाइश दी गई कि बुधवार से अनिवार्य रूप से लेफ्ट-राइट के सिद्धांत का पालन कराया जाए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Rajasthan Political Crisis : सचिन पायलट ने कहा- राम राम सा! तो विश्वेंद्र और मीणा ने पूछा- हमने क्या गुनाह किया?