गुजरात में निजी लैब में 2500 रुपए में होगी Coronavirus जांच

गुरुवार, 25 जून 2020 (21:35 IST)
अहमदाबाद। गुजरात सरकार ने नागरिकों को राहत देते हुए गुरुवार को निजी प्रयोगशालाओं में कोविड-19 (COVID-19) जांच शुल्क को घटाकर 4 हजार रुपए से 2500 कर दिया है। 
 
इस घोषणा से 10 दिन पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने दावा किया था कि गुजरात में विभिन्न राज्यों की अपेक्षा निजी प्रयोगशालाओं में कोविड-19 जांच महंगी है। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने बताया कि सरकार की ओर से अधिकृत प्रयोगशालाएं अब कोविड-19 जांच के लिए 4 हजार रुपए के बदले 2500 रुपए लेंगी।
 
पटेल ने कहा कि नया शुल्क जल्दी ही प्रभावी होगा। उन्होंने कहा कि कोई व्यक्ति डाक्टर की पर्ची के साथ अगर प्रयोगशाला में जाता है तो उसे 2500 रुपए अदा करना होगा और अगर वह प्रयोगशाला सहायक को नमूना एकत्र करने के लिए अपने घर बुलाता है तो उसे तीन हजार रुपए देने होंगे।
 
उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से अधिकृत शुल्क से अधिक अगर कोई निजी प्रयोगशाला वसूल करती है तो उसका लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा।
 
इस बीच सरकार की घोषणा पर प्रतिक्रिया देते हुए विपक्ष के नेता परेश धनानी ने कहा कि कोरोनावायरस जांच के लिए लोगों से एक हजार रुपए से अधिक वसूल नहीं किया जाना चाहिए।
 
इससे पहले 15 जून को एक ट्वीट में राज्यसभा सांसद अहमद पटेल ने पूछा था कि अहमदाबाद के निजी लैब कोरोना वायरस जांच के लिए क्यों 4500 रुपए वसूल कर रहे हैं जबकि मुंबई में यह दर 2200 रुपए है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख अब जरूरत पड़ने पर लोगों को आसानी से मिल सकेगा खून, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने लॉन्च किया App